Looking for
  • Home
  • Blogs
  • NirogStreet Newsअल्जाइमर रोग के कारणों का शोधकर्ताओं ने पता लगाया

अल्जाइमर रोग के कारणों का शोधकर्ताओं ने पता लगाया

User

By NS Desk | 20-Sep-2021

अल्जाइमर रोग

ऑस्ट्रेलियाई शोधकर्ताओं ने एक अध्ययन में एक 'ब्लड-टू-ब्रेन पाथवे' की पहचान की है, जो अल्जाइमर रोग का कारण बन सकता है। यह दुर्बल मस्तिष्क विकार के लिए संभावित नई रोकथाम और उपचार के अवसर प्रदान करता है। ऑस्ट्रेलिया के पर्थ में कर्टिन विश्वविद्यालय की एक टीम के नेतृत्व में किए गए अध्ययन ने माउस मॉडल पर परीक्षण किया, जिससे पता चला कि अल्जाइमर रोग का एक संभावित कारण टॉक्सिक प्रोटीन को ले जाने वाले फेट-केयरिंग पाटíकल के रक्त से मस्तिष्क में रिसाव।

ये निष्कर्ष पीएलओएस बायोलॉजी जर्नल में प्रकाशित हुए हैं।

कर्टिन हेल्थ इनोवेशन रिसर्च इंस्टीट्यूट के निदेशक, प्रमुख अन्वेषक प्रोफेसर जॉन मामो ने कहा, जबकि हम पहले जानते थे कि अल्जाइमर रोग से पीड़ित लोगों की पहचान विशेषता बीटा-एमिलॉयड नामक मस्तिष्क के भीतर जहरीले प्रोटीन जमा का प्रगतिशील संचय था, शोधकर्ताओ को यह नहीं पता था कि एमिलॉयड कहां से उत्पन्न हुआ, या यह मस्तिष्क में क्यों जमा हुआ।

हमारे शोध से पता चलता है कि ये जहरीले प्रोटीन जमा होते हैं जो अल्जाइमर रोग से पीड़ित लोगों के दिमाग में बनते हैं, जो रक्त में वसा ले जाने वाले कणों से मस्तिष्क में रिसाव की संभावना रखते हैं, जिन्हें लिपोप्रोटीन कहा जाता है।

यह 'ब्लड-टू-ब्रेन पाथवे' महत्वपूर्ण है क्योंकि अगर हम लिपोप्रोटीन-एमिलॉइ के रक्त के स्तर को प्रबंधित कर सकते हैं और मस्तिष्क में उनके रिसाव को रोक सकते हैं, यह अल्जाइमर रोग और धीमी स्मृति हानि को रोकने के लिए संभावित नए उपचार खोलता है।

पिछले शोध में दिखाया गया था कि बीटा-एमिलॉइड मस्तिष्क के बाहर लिपोप्रोटीन के साथ बनाया जाता है, मामो की टीम ने आनुवंशिक रूप से इंजीनियर माउस मॉडल द्वारा 'ब्लड-टू-ब्रेन पाथवे' का परीक्षण किया ताकि मानव अमाइलॉइड-केवल लीवर का उत्पादन किया जा सके जो लिपोप्रोटीन बनाते हैं।

खोज से पता चलता है कि रक्त में इन जहरीले प्रोटीन जमा की प्रचुरता को संभावित रूप से किसी व्यक्ति के आहार और कुछ दवाओं के माध्यम हो सकता है, जो विशेष रूप से लिपोप्रोटीन एमिलॉयड को लक्षित कर सकते हैं, इसलिए उनके जोखिम को कम और अल्जाइमर रोग की प्रगति को धीमा कर देते हैं।
यह भी पढ़े► जंगल की आग की तरह क्यों फैलता है डेल्टा कोविड वेरिएंट?

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters