Looking for
  • Home
  • Blogs
  • NirogStreet Newsकोरोनावायरस संक्रमण को भारत में फैलने से रोकने के लिए पांच हजार से अधिक लोगों की निगरानी

कोरोनावायरस संक्रमण को भारत में फैलने से रोकने के लिए पांच हजार से अधिक लोगों की निगरानी

User

By NS Desk | 06-Feb-2020

prevent coronavirus infection

नई दिल्ली| नोवेल कोरोनावायरस का संक्रमण देश में न फैल सके, इसके लिए पांच हजार से अधिक लोगों को उनके घर के भीतर अन्य लोगों से अलग निगरानी में रखा गया है। ये वह लोग हैं, जिन्होंने 15 जनवरी या उसके बाद चीन की यात्रा की अथवा इस दौरान चीन की यात्रा करने वाले लोगों के संपर्क में थे।

स्वास्थ्य मंत्रालय की सचिव प्रीति सूदन ने बताया, "कोरोना वायरस की जांच के लिए कुल 741 नमूने लिए गए। इन नमूनों की जांच में 738 नमूने नेगेटिव पाए गए हैं। तीन नमूने पॉजिटिव पाए गए हैं। कोरोना वायरस से ग्रस्ति तीनों रोगी चीन से लौटे हैं और फिलहाल केरल में है। अभी तक 5123 व्यक्तियों को देशभर में घर के अंदर ही निगरानी में रखा गया है।"

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने देश की विभिन्न राज्य सरकारों से कहा है कि वह कोरोनावायरस को लेकर अपने अपने राज्यों में जागरूकता अभियान चलाए। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव प्रीति सूदन ने कहा कि जिन राज्यों में हवाईअड्डे और बंदरगाह नहीं हैं, ऐसे राज्यों में टोल प्लाजा, बसअड्डों तथा रेलवे स्टेशनों पर विशेष जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि राज्य सरकारों को सभी प्रशासनिक इकाइयों में निगरानी और सतर्कता कार्य करने को कहा गया है।

कोरोनावायरस को लेकर हर जिले की स्थिति की समीक्षा और निगरानी शुरू की गई है और इसकी निगरानी में जिला कलेक्टरों को शामिल किया जा रहा है। टोल प्लाजा पर कोरोनावायरस को लेकर जागरूकता फैलाने का काम दिल्ली के आसपास स्थित शहरों में शुरू किया जा चुका है।

हरियाणा के हिसार, सिरसा समेत कई स्थानों पर टोल प्लाजा, रेलवे स्टेशन व बस अड्डों पर विशेषज्ञों ने यात्रियों को कोरोनावायरस के प्रति जागरूक बनाने का काम शुरू कर दिया है। इसके तहत लोगों से बात करके, उन्हे लिखित सामग्री देकर व बैनर, होर्डिग के माध्यम से जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है।

स्वास्थ्य सचिव प्रीति सूदन ने कहा, "राज्यों को अधिक सतर्क रहने की आवश्यकता है। कोरोना वायरस की रोकथाम में राज्यों की भूमिका महत्वपूर्ण है।"

उन्होंने राज्यों से पर्याप्त निगरानी प्रबंधन के आवश्यक उपाय करने को कहा। हवाईअड्डों पर स्क्रीनिंग के लिए अतिरिक्त मानव शक्ति की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए कहा कि इस बारे में राज्यों को आवश्यक स्वास्थ्य कार्य बल तथा अन्य लॉजिस्टिक समर्थन एपीएचओ को देना चाहिए।

नेपाल से सटे राज्यों ने बताया है कि वे आवश्यक कदम उठा रहे हैं और स्क्रीनिंग तथा प्रबंधन पर सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन कर रहे हैं। स्वास्थ्य सचिव ने कहा, "राज्यों में विभिन्न धार्मिक और पर्यटक स्थलों के यात्रियों की स्वयं रिपोर्टिग के लिए होटल एसोसिएशन के साथ भी तालमेल किया जा रहा है।"  

(आईएएनएस)

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters