Looking for
  • Home
  • Blogs
  • NirogStreet Newsन्यूजीलैंड में कोरोनावायरस के चलते लॉकडाउन की घोषणा

न्यूजीलैंड में कोरोनावायरस के चलते लॉकडाउन की घोषणा

User

By NS Desk | 23-Mar-2020

new zealand lockdown

न्यूजीलैंड में लॉकडाउन

वेलिंगटन| न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जैकिंडा अर्डर्न ने सोमवार को देश में कम्युनिटी ट्रांसमिशन के पहले मामले के सामने आने के बाद कोरोनावायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए बुधवार से लॉकडाउन की घोषणा की है। एफे की रिपोर्ट के अनुसार, देश में सोमवार को संक्रमण के 36 नए मामले सामने आने के बाद यह आंकड़ा कुल 102 हो गया है, जिसमें से अधिकतर मामलों में मरीजों ने विदेश यात्रा की थी, लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि दो मामले स्थानीय लोगों के आपस में संपर्क में आने के बाद सामने आए हैं।

प्रधानमंत्री जैकिंडा अर्डर्न ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "देश सोमवार को लेवल-3 में प्रवेश कर गया है। सबसे गंभीर स्थित लेवल-4 से निपटने की तैयारी है, बुधवार से लॉकडाउन लागू होगा और ऐसे में लोगों को एकांतवास में भेजे जाने की जरूरत है।"

उन्होंने कहा, "उम्मीद के अनुसार लॉकडाउन चार सप्ताह तक चलेगा।"

लेवल फोर में स्कूलों को पूर्ण रूप से बंद कर दिया जाएगा। हालांकि, सुपरमार्केट, अस्पताल, मेडिकल स्टोर, सर्विस स्टेशन जैसी जरूरी सेवाएं चालू रहेंगी।

अर्डर्न ने घोषणा करते हुए कहा, "ये फैसले आधुनिक इतिहास में न्यूजीलैंड के (लोगों के) मूवमेंट्स (आने-जाने) पर सबसे महत्वपूर्ण प्रतिबंध लगा देंगे। यह हल्के में लिया गया निर्णय नहीं है, लेकिन वायरस को फैलने से रोकने और लोगों की जान बचाने का यह हमारे पास सबसे अच्छा मौका है।"

हालांकि, लोगों को बाहर खुले स्थानों में अपने आप या उन लोगों के साथ जाने की अनुमति दी गई है, जिनके साथ वे आइसोलेशन में हैं।

प्रधानमंत्री अर्डर्न ने कहा, "यदि न्यूजीलैंड में कम्युनिटी ट्रांसमिशन शुरू हो गया तो प्रत्येक पांच दिनों में मामलों में बढ़ोतरी शुरू होती चली जाएगी।"

उन्होंने आगे कहा, "ऐसी अनियंत्रित स्थित में हमारी स्वास्थ्य प्रणाली डूब जाएगी और दसियों हजार न्यूजीलैंडवासी मारे जाएंगे।"

(आईएएनएस)

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters