Looking for
  • Home
  • Blogs
  • NirogStreet Newsटीकमगढ़ जिले के आयुर्वेदिक अस्पताल में चिकित्सकों की कमी

टीकमगढ़ जिले के आयुर्वेदिक अस्पताल में चिकित्सकों की कमी

User

By NS Desk | 22-Dec-2018

Ayurveda University

आयुर्वेद चिकित्सकों की कमी से जूझ रहे टीकमगढ़ के अस्पताल - केंद्र सरकार द्वारा ध्यान देने के बाद भारत में आयुर्वेद की स्थिति में जरुर सुधार हुआ है लेकिन अब भी व्यापक बदलाव की जरुरत है. देश के सरकारी आयुर्वेदिक अस्पताल संस्थागत कमियों से लगातार जूझ रहे हैं. कहीं आयुर्वेदिक अस्पताल का भवन जर्जर है तो दूसरी तरफ कई अस्पताल आयुर्वेदिक चिकित्सकों की कमी से जूझ रहे हैं.

मध्यप्रदेश के टीकमगढ़ जिले के आयुर्वेदिक अस्पताल भी आजकल चिकित्सकों की कमी से जूझ रहे हैं. ऐसे में अस्पताल में आने वाले मरीजों को बिना इलाज के ही वापस लौटना पड़ रहा है.

टीकमगढ़ जिले के आयुर्वेदिक अस्पताल में मरीजों के उपचार के लिए करीब 36 पद स्वीकृत है, लेकिन मात्र 11 चिकित्सकों के भरोसे ही यह अस्पताल चल रहा है.

अस्पताल में अन्य सुविधाओं की भी कमी है, जिससे मरीजों को परेशानी होती है. जिला मुख्यालय पर आयुर्वेदिक अस्पताल तो बना दिया, लेकिन यहां एक भी विशेषज्ञ चिकित्सक नहीं है. इससे आयुर्वेद में विश्वास रखने वाले मरीजों को निराश होकर यहाँ से लौटना पड़ रहा है.

( हिन्दी में आयुर्वेद की ख़बरें - निरोगस्ट्रीट हिन्दी )

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters