Looking for
  • Home
  • Blogs
  • NirogStreet Newsदिल्ली में कोरोना वायरस फ़ैलाने का खौफनाक मामला, सऊदी से आयी थी महिला

दिल्ली में कोरोना वायरस फ़ैलाने का खौफनाक मामला, सऊदी से आयी थी महिला

User

By NS Desk | 23-Mar-2020

दिल्ली के दिलशाद गार्डन में एक महिला 19 फरवरी को सऊदी अरब जाती है और 10 मार्च को 19 साल के बेटे के साथ दिल्ली लौटती है। इस महिला का केस नंबर 10 कम्युनिटी ट्रांसमिशन के मामले में बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर से भी खौफनाक मामला है। दिल्ली एयरोपोर्ट पर महिला का भाई उसे रिसीव करता है। दो दिन बाद महिला को खांसी की शिकायत होती है और पहले नजदीक के एक डॉक्टर से दिखाने के बाद 15 मार्च को उसे जीटीबी अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे राम मनोहर लोहिया अस्पताल रेफर कर दिया गया। 17 मार्च को उसे कोरोना पाजिटिव केस पाया गया।

इस महिला के भाई-मां को 20 मार्च को पाजिटिव पाया गया। 21 मार्च को उसकी दो बेटियां भी कोरोना पाजिटिव पाई गईं। जिस डॉक्टर को उस महिला ने सबसे पहले दिखाया था, 22 मार्च को वह भी पाजिटिव पाया गया।

अब ऐसे में सवाल उठता है कि जब इतने लोग पाजिटिव मिले हैं तो इनसे और कितने लोग मिले होंगे। जैसे डॉक्टर ही उसके बाद न जाने कितने मरीजों को देखा होगा। इसी तरह बेटा जिस-जिस से मिला, सभी रिस्क में हैं। जिस मोहल्ले में ये लोग रहते हैं, जिन दुकानदार से सामान खरीदे होंगे, वे सभी रिस्क में होंगे।

महिला का भाई इस दौरान क्वारंटीन हुए, लेकिन इससे पहले वे न जाने कितने लोगों से मिले। ये किसी महफिल में भी गए थे। इस तरह पूरा चेन खतरे के दायरे में है। इसी तरह भाई जहांगीरपुरी में रहते हैं, वह पता नहीं कितने लोगों से मिले होंगे। इस तरह यह केस कम्युनिटी ट्रांसमिशन का क्लासिक केस बन गया है और बालीवुड सिंगर कनिका कपूर के मामले से भी खौफनाक हो गया है। दिल्ली में अब तक जो 30 मामले सामने आए हैं, उसमें पांच केस इसी मामले से जुड़े रहे हैं। (आईएएनएस)

और पढ़े - प्राइवेट हॉस्पिटल 'सिक्स सिग्मा' बनेगा 300 बेड का कोविड-19 हॉस्पिटल

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters