Looking for
  • Home
  • Blogs
  • NirogStreet Newsआयुर्वेद और यूनानी उपचार को भी कवर करेगा हेल्थ इंश्योरेंस

आयुर्वेद और यूनानी उपचार को भी कवर करेगा हेल्थ इंश्योरेंस

User

By NS Desk | 20-Feb-2019

Ayurveda

आयुर्वेद का प्रचार-प्रसार पिछले कुछ वर्षों में तेजी से बढ़ा है. आम लोगों का भी विश्वास आयुर्वेद चिकित्सा की तरफ बढ़ा है और बहुत सारे लोग आयुर्वेद के माध्यम से अपना इलाज करवाना चाहते हैं. लेकिन इसमें सबसे बड़ी समस्या तब आती है जब स्वास्थ्य बीमा के कवरेज की बात आती है. स्वास्थ्य बीमा के अंतर्गत एलोपैथिक चिकित्सा और चिकित्सालय तो शामिल रहते हैं लेकिन आयुर्वेद , यूनानी और होमियोपैथ इससे बाहर रहते है. इससे चाहकर भी कई बार लोग आयुर्वेद इलाज नहीं करवा पाते है. लेकिन अब इस कमी को दूर करने के प्रयास शुरू हो गए हैं.

अब स्वास्थ्य बीमा (health insurance) आयुर्वेद और यूनानी उपचार पर होने वाले खर्चों को भी अब कवर करेगा. भारतीय बीमा विनियामक एवं विकास प्राधिकरण (irdai) द्वारा जारी किए स्टैंडर्ड हेल्थ प्रोडक्ट के ड्राफ्ट गाइडलाइंस में इसका उल्लेख किया गया है. आयुर्वेद, यूनानी, सिद्ध और दवाओं की होम्योपैथी प्रणाली के तहत उपचार पर किए गए व्यय, बीमा राशि के आधार पर निश्चित और मानक उप-सीमाओं के अधीन होंगे। जारी गाइडलाइंस के 12 वें बिंदु के रूप में इसका उल्लेख करते हुए लिखा गया है - expenses incurred on treatment under ayurveda, unani, sidha and homeopathy systems of medicines shall be covered subject to fixed and standard sub-limits based on sum insured.

irdai द्वारा जारी किए स्टैंडर्ड हेल्थ प्रोडक्ट के ड्राफ्ट गाइडलाइंस को आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके पूरा पढ़ सकते हैं.

irdai द्वारा जारी स्टैंडर्ड हेल्थ प्रोडक्ट का ड्राफ्ट

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters