Looking for
  • Home
  • Blogs
  • NirogStreet Newsबिहार : मोतिहारी के अस्पताल में मास्क न होने से डॉक्टरों की हड़ताल

बिहार : मोतिहारी के अस्पताल में मास्क न होने से डॉक्टरों की हड़ताल

User

| 14-Mar-2020

doctors strike

पटना| कोरोनावायरस देशभर में पैर पसार रहा है। अस्पतालों के मेडिकल और अन्य स्टॉफ की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं। सभी अस्पतालों को वायरस से लड़ने के लिए तैयार रहने को कहा गया है। मगर इस बीच बिहार के मोतिहारी सदर अस्पताल के डॉक्टर शनिवार को अचानक हड़ताल पर चले गए हैं। डॉक्टरों का कहना है कि अस्पताल में मास्क उपलब्ध नहीं हैं और उनकी सुरक्षा के लिए कोई प्रबंध नहीं है। डॉक्टरों के अचानक हड़ताल पर जाने के कारण मरीजों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। बताया जा रहा है कि मोतिहारी सदर अस्पताल में डॉक्टर खुद कोरोनावायरस से भयभीत हैं। अस्पताल में मॉस्क नहीं हैं। इस भय के कारण ही अपनी सुरक्षा की चिंता करते हुए मोतिहारी सदर अस्पताल के डॉक्टर अचानक हड़ताल पर चले गए हैं।

गौरतलब है कि कोरोनावायरस के देश में तेजी से फैलने के कारण विभिन्न राज्यों ने अपने शिक्षण संस्थानों को बंद कर दिया है और अस्पतालों को इंतजाम पुख्ता रखने के साथ ही सतर्क रहने को कहा गया है। मगर इस तरह डॉक्टरों के हड़ताल पर चले जाने के कारण बिहार में स्थिति उल्टी ही पड़ती दिखाई दे रही है।

देश में यह पहला वाकया है, जहां कोरोनावायरस के डर से डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मी एक साथ हड़ताल पर चले गए हैं। मोतिहारी सदर अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि अस्पताल में इलाज कर रहे डॉक्टरों और कर्मियों की सुरक्षा के लिए कोई प्रबंध नहीं हैं। उनका कहना है कि सुरक्षा के नाम पर अस्पताल में एक मास्क तक उपलब्ध नहीं कराया जा सका है।

इस पर मोतिहारी के सिविल सर्जन ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की ओर से तीन हजार मास्क उपलब्ध हुए हैं, जिन्हें डॉक्टरों को उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जा रही है।

गौरतलब है कि नाइजीरिया से लौटे एक युवक के बीमार होने पर बीते 12 मार्च को मोतिहारी सदर अस्पताल के डॉक्टरों ने कोरोनावायरस से ग्रसित होने की आशंका जाहिर करते हुए उसे मुजफ्फरपुर रेफर कर दिया था। इसके बाद से ही मोतिहारी सदर अस्पताल के डॉक्टरों में मरीजों के इलाज को लेकर दहशत बनी हुई है। (आईएएनएस)

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters