Looking for
  • Home
  • Blogs
  • NirogStreet Newsअलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय का फरमान फ्लू के लक्षण होने पर जुमे की नमाज में शामिल न हों

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय का फरमान फ्लू के लक्षण होने पर जुमे की नमाज में शामिल न हों

User

By NS Desk | 17-Mar-2020

symptoms of flu

अलीगढ़ (उत्तर प्रदेश)| अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) ने एक नोटिस जारी किया है, जिसमें छात्रों और अन्य सभी कर्मचारियों से आग्रह किया गया है कि वे फ्लू का कोई भी लक्षण होने पर परिसर की मस्जिदों में होने वाले जुमे की नमाज से दूर रहें। नोटिस के मुताबिक, लोगों को नमाज के दौरान एक-दूसरे से थोड़ी दूरी पर बैठने के लिए कहा गया है और बीच-बीच में एक पंक्ति भी छोड़ने के लिए कहा गया है।

नोटिस में कहा गया है कि फ्लू के लक्षणों वाले लोगों को अपने आवासों पर नमाज अदा करना चाहिए।

एएमयू परिसर में लगभग 20 मस्जिदें हैं और 20,000 छात्र और शिक्षक जो परिसर में रहते हैं, इन मस्जिदों में नमाज अदा करते हैं।

'स्टूडेंट्स वेलफेयर' के डीन मुजाहिद बेग ने कहा कि छात्रों और शिक्षकों से भी आग्रह किया गया है कि वे मस्जिदों में 'वुजू' (सामूहिक रूप से हाथ धोना) न करें।

इस बीच, एएमयू मेडिकल कॉलेज ने कोरोनोवायरस के लक्षणों की जांच के लिए एक अलग ओपीडी की स्थापना की है।

बेग ने कहा, "लगभग 11 शिक्षक और 48 छात्र, जो एक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में भाग लेने गए थे, लौटने के बाद उनकी जांच की जाएगी कि क्या उनमें कोई फ्लू जैसे लक्षण विकसित हो रहे हैं।" उन्होंने कहा कि आवश्यकता पड़ने पर उन्हें अलग-थलग रखा जाएगा।

उन्होंने कहा, बीमारी के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए पूरे परिसर में कोरोनावायरस के बारे में पर्चे वितरित किए गए हैं। (आईएएनएस) 

और पढ़े - पाकिस्तान में कोरोनावायरस के मामलें बढ़कर 183 हुए 

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters