Looking for
  • Home
  • Blogs
  • NirogStreet Newsदिल्ली के 25 अस्पतालों में होगा कोरोनावायरस का उपचार

दिल्ली के 25 अस्पतालों में होगा कोरोनावायरस का उपचार

User

By NS Desk | 03-Mar-2020

coronavirus

नई दिल्ली , 3 मार्च | कोरोनावायरस की रोकथाम व उपचार के लिए दिल्ली सरकार निजी अस्पतालों के साथ मिलकर अस्पतालों में खास वार्ड तैयार करेगी। मंगलवार को इस बाबत दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक अहम बैठक की। इस बैठक में स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा, "विभिन्न अस्पतालों में 230 खास बेड तैयार किए जा रहे हैं। इसके लिए दिल्ली के 25 अलग-अलग अस्पतालों को चुना गया है। कोरोनावायरस के उपचार की जिम्मेदारी जिन अस्पतालों को सौंपी गई है, उनमें 19 सरकारी और छह निजी अस्पताल शामिल हैं। दिल्ली सरकार ने 12 विभिन्न केंद्रों पर कोरोनावायरस के संदिग्ध रोगियों के मेडिकल टेस्ट की व्यवस्था भी की है।"

सतेंद्र जैन ने कहा, "सावधानी बरतते हुए दिल्ली सरकार ने तीन लाख 50 हजार एन-95 मास्क की व्यवस्था की है। इसके अलावा कोरोनावायरस के संदिग्धों की जांच कर रहे चिकित्सकों व अन्य स्टाफ के लिए आठ हजार सेपेरेशन किट भी खरीदे गए हैं।"

स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोनावायरस की स्थिति काबू में है। उन्होंने कहा, "अभी तक केवल एक व्यक्ति कोरोनावायरस से ग्रस्त पाया गया है। दिल की बीमारी या फिर बहुत अधिक शुगर की बीमारी से जूझ रहे लोगों को यह संक्रमण होने का खतरा ज्यादा है।"

कोरोनावायरस से ग्रस्त पूर्वी दिल्ली में रहने वाले एक व्यक्ति की जानकारी केंद्र सरकार को मिली है। रोगी का उपचार केंद्र सरकार के डॉक्टरों की देखरेख में चल रहा है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, "इस व्यक्ति के रिश्तेदारों की जांच करवाई गई लेकिन अभी किसी की जांच रिपोर्ट नहीं आई है। इसके अलावा इस व्यक्ति के संपर्क में आए 12 लोगों को अन्य सभी लोगों से पृथक रखा गया है।"

कोरोनावायरस से ग्रस्त यह व्यक्ति बीते फरवरी माह में ही इटली की यात्रा से भारत लौटा है। स्वास्थ्य विभाग की टीम कोरोनावायरस से ग्रस्त इस व्यक्ति के संपर्क में आए सभी व्यक्तियों की जांच कर रही है।

सतेंद्र जैन के मुताबिक, किसी भी व्यक्ति को इस बीमारी से घबराने की आवश्यकता नहीं है बल्कि हर व्यक्ति को थोड़ी सावधानी बरतने की जरूरत है। जैन ने कहा कि संभव हो तो छींकते या खांसते समय टिशु पेपर का इस्तेमाल करें। इसके साथ ही दिल्ली सरकार ने ऐसे सभी लोगों से तुरंत डॉक्टर से संपर्क करने का अनुरोध किया है जो चीन, ईरान, इटली, कोरिया, सिंगापुर, थाईलैंड या नेपाल आदि देशों की यात्रा करके लौटे हैं और अस्वस्थ्य महसूस कर रहे हैं। (आईएएनएस)

- कोरोनावायरस से घबराए नहीं, साथ मिलकर काम करें : मोदी 

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters