Looking for
  • Home
  • Blogs
  • NirogStreet Newsआयुष मंत्री ने जम्मू-कश्मीर में 21 आयुष स्वास्थ्य और कल्याण केंद्रों का उद्घाटन किया

आयुष मंत्री ने जम्मू-कश्मीर में 21 आयुष स्वास्थ्य और कल्याण केंद्रों का उद्घाटन किया

User

By NS Desk | 28-Sep-2020

ayush health centre

wellness centre in jammu

आयुष राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीपद नाइक और प्रधानमंत्री कार्यालय तथा पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्रालय के राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. जितेन्द्र सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 25 सितंबर 2020 को भद्रवाह में औषधीय पौधों के लिए पोस्ट हार्वेस्ट मैनेजमेंट सेंटर की आधारशिला रखी तथा जम्मू-कश्मीर में 21 आयुष स्वास्थ्य और कल्याण केंद्रों का उद्घाटन किया।  

औषधीय पौधों के लिए पोस्ट हार्वेस्ट मैनेजमेंट सेंटर की स्थापना का उद्देश्य स्थानीय लोगों द्वारा उत्पादित और एकत्र किए गए हर्बल कच्चे माल को सुखाने, छंटाई, प्रसंस्करण, प्रमाणन, पैकेजिंग, और सुरक्षित भंडारण के लिए आधारभूत सुविधाओं का विकास करना है ताकि इनकी गुणवत्ता को बेहतर कीमत मिल सके और इससे जुड़े हुए किसानों की आय में वृद्धि हो।  इस कार्यक्रम के दौरान, जम्मू और कश्मीर में आयुष्मान भारत योजना के तहत 21 आयुष स्वास्थ्य और कल्याण केंद्रों का भी उद्घाटन किया गया। 

बीमारी के बोझ और जेब के खर्च को कम करने के लिए इन केंद्रों के माध्यम से एक समग्र स्वास्थ्य तंत्र बनाया जाएगा। आयुष के इन उपायों का मुख्य उद्देश्य एक स्वस्थ जीवन शैली, भोजन, योग और औषधीय पौधों के माध्यम से बीमारियों की रोकथाम पर "आत्म-देखभाल" के लिए जनता को समर्थ बनाना है।  

श्रीपद नाइक ने अपने संबोधन में कहा कि जम्मू और कश्मीर के भद्रवाह क्षेत्र में औषधीय पौधों के लिए "पोस्ट हार्वेस्ट मैनेजमेंट सेंटर" की इस इलाक़े के लोगों की लंबे समय से मांग थी। उन्होंने इस हिस्से में कई हिमालयी औषधीय पौधों की प्रजातियों की खेती की बड़ी संभावनाओं पर भी रोशनी डाली। 

आयुष मंत्री ने केन्द्र प्रायोजित कार्यक्रमों को लागू करने में केंद्र शासित प्रदेश सरकार के अधिकारियों के प्रयासों की सराहना की और उन्होंने कहा कि भारत सरकार जम्मू-कश्मीर में विकास की गति को तेज करने के लिए सर्वोच्च प्राथमिकता दे रही है।  

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए इस बात पर प्रकाश डाला कि "पोस्ट हार्वेस्ट मैनेजमेंट सेंटर" औषधीय पौधों के उत्पादकों और संग्राहकों के लिए प्रदान की जाने वाली अन्य सुविधाओं के साथ-साथ युवाओं को बड़ी संख्या में रोजगार भी प्रदान करेगा।

इसके अलावा, उन्होंने संभावना व्यक्त की कि, आयुष स्वास्थ्य और कल्याण कार्यक्रम न केवल जरूरतमंद लोगों को सेवाएं प्रदान करेगा बल्कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी आयुष को बढ़ावा देगा।   

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters