Looking for
  • Home
  • Blogs
  • NirogStreet Newsएयर कंडीशनर से कोरोना वायरस नहीं फैलता

एयर कंडीशनर से कोरोना वायरस नहीं फैलता

User

By NS Desk | 23-Feb-2020

बीजिंग | नए कोरोना वायरस की रोकथाम और नियंत्रण के दौरान क्या सेंट्रल एयर कंडीशनिंग का प्रयोग किया जा सकता है? इस बारे में चीनी इंजीनियरिंग अकादमी के सदस्य और रेफ्रिजरेशन एसोसिएशन के उप निदेशक च्यांग यी ने कहा कि लोगों को इसकी चिंता करने की जरूरत नहीं है। घर में एयर कंडीशनिंग का प्रयोग किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि चीन के 95 प्रतिशत से अधिक परिवारों में सेंट्रल एयर कंडीशनिंग का प्रयोग नहीं होता। आम तौर पर हमारे घर के हर कमरे में लगा एयर कंडीशनर स्वतंत्र है। विभिन्न कमरों में लगे एयर कंडीशनर एक दूसरे पर प्रभाव नहीं डालते। एयर कंडीशनर का वायरस के फैलाव से कोई संबंध नहीं होता।

च्यांग यी ने कहा कि बड़े सुपर मार्केट, रेलवे स्टेशन और हवाई अड्डे जैसे सार्वजनिक क्षेत्रों में सेंट्रल एयर कंडीशनिंग व्यवस्था के प्रयोग में नई हवा के बदलाव की मात्रा को बढ़ाया जाना चाहिए। चीन के अधिकांश कार्यालयों में जो सेंट्रल एयर कंडीशनिंग का प्रयोग किया जाता है, उससे वायरस का फैलाव नहीं हो सकता है।

चीनी रोग रोकथाम और नियंत्रण केंद्र के वातावरण अनुसंधान संस्था के शोधकर्ता चांग ल्योपो ने कहा कि कुछ सेंट्रल एयर कंडीशनिंग में कीटाणुशोधन या स्वच्छ करने के उपकरण लगे होते हैं, जो कारगर हैं। उन्होंने कहा कि महामारी की रोकथाम के दौरान उन उपकरणों का प्रयोग किया जाना चाहिए। हर हफ्ते हवा फेंकने और हवा सोखने की जगह को अच्छे से साफ करना चाहिए। यह बहुत महत्वपूर्ण है। अगर वायरस से संक्रमित मरीज या संदिग्ध मरीज का पता चलता है, तो शीघ्र ही सेंट्रल एयर कंडीशनिंग बंद कर कीटाणुशोधन करना चाहिए।

चीनी इंजीनियरिंग अकादमी के सदस्य च्यांग यी ने कहा कि महामारी की रोकथाम में अकसर खिड़की खोलकर ताजा हवा लेना अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि अगर हम कमरे में हैं, तो खिड़की खोलकर वायु संचार करें। अगर बाहर जाते हैं, तो अच्छे से मास्क पहनें। भीड़-भाड़ वाली जगह पर कम ही जाएं। ये उपाय बहुत कारगर और महत्वपूर्ण हैं। (साभार-चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters