Looking for
  • Home
  • Blogs
  • NirogStreet Newsभारत में कोरोना वायरस के 81 मामलों की पुष्टि, 10 को मिली संक्रमण से निजात

भारत में कोरोना वायरस के 81 मामलों की पुष्टि, 10 को मिली संक्रमण से निजात

User

By NS Desk | 13-Mar-2020

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि भारत में कोरोना वायरस के मामलों की कुल संख्या शुक्रवार को 81 पर पहुंच गई है। उन्होंने कहा, "अभी तक देश में कोरोना वायरस के 81 मामलों की पुष्टि हुई है। इनमें केरल के वह तीन लोग भी हैं, जिन्हें इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई है। इसके अलावा दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल से सात अन्य लोग भी ठीक हो चुके हैं।"

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, पुष्टि किए गए मामलों में 64 भारतीय, 16 इतालवी और एक कनाडाई नागरिक हैं। इन लोगों के संपर्क में आए अन्य लोगों को भी तलाश कर उनकी जांच की जा रही है। अब तक इस प्रक्रिया में 4,000 से अधिक ऐसे लोगों की पहचान की गई है, जो कि संक्रमण से ग्रस्त लोगों के संपर्क में आए थे। अब इन लोगों को भी निगरानी में रखा गया है।

अग्रवाल ने कहा, "प्रमुख और छोटे बंदरगाह पर कुल 25,504 यात्रियों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है। इसके अलावा लैंडपोर्ट पर 14 लाख से अधिक लोगों की स्क्रीनिंग हुई है।"

भारत सरकार ने सामुदायिक निगरानी के तहत कम से कम 42,296 यात्रियों की जांच की है, जिनमें से 2,559 लोगों में संक्रमण के लक्षण मिले और 522 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जिनमें 17 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं।

इसके अलावा 30 हवाईअड्डों पर कुल 10,876 उड़ानों से कम से कम 11,71,061 यात्रियों की जांच की जा चुकी है। संयुक्त सचिव ने यह भी कहा कि 3,062 यात्रियों और 583 संपर्क में आए लोगों की पहचान की गई।

सरकार ने कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित चीन, ईरान और जापान जैसे देशों में फंसे भारतीयों को वापस लाने का भी काम किया है।

अग्रवाल ने कहा कि अब तक ईरान से 1,199 नमूनों को एकत्र किया गया है और परीक्षण के लिए भारत लाया गया है।

सरकार ने स्वास्थ्य मंत्रालय के चार डॉक्टरों की एक टीम रोम भेज दी है। टीम के पास भारतीयों के नमूने एकत्र करने के लिए पर्याप्त सामग्री भी उपलब्ध है।

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters