• Home
  • Blogs
  • NirogStreet News भारत में कोविड-19 संक्रमण के 288 मामलों की पुष्टि

भारत में कोविड-19 संक्रमण के 288 मामलों की पुष्टि

User

By NS Desk | 21-Mar-2020

covid19

भारत में कोरोनावायरस संक्रमण के मामलों की संख्या शनिवार को बढ़कर 288 हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, सुबह 9 बजे तक भारत में 285 मामले सामने आए थे, जिनमें से 22 को स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। वहीं चार लोगों की संक्रमण के चलते मौत हो गई और 231 लोगों का इलाज चल रहा है। बाद में अन्य तीन नए मामले सामने आने के बाद यह आंकड़ा बढ़कर 288 हो गया।

हिमाचल प्रदेश में संक्रमण का पहला मामला सामने आया है। सबसे अधिक प्रभावित राज्य महाराष्ट्र की स्थिति सबसे खराब है। यहां से कुल 52 मामले सामने आ चुके हैं और एक मौत हुई है।

इसके बाद केरल में 40 पुष्टि वाले मामलों के साथ स्थिति बेहद चिंताजनक बनी हुई है।

दिल्ली और उत्तर प्रदेश से क्रमश: 26 और 24 मामले सामने आ चुके हैं।

स्वास्थ मंत्रालय के अनुसार, हवाईअड्डे पर कम से कम 14,59,993 यात्रियों की जांच की गई। (एजेंसी) 

कोरोनावायरस से जुडी और खबरे - 

बंगाल में कोविड-19 के 3 मामले
पश्चिम बंगाल में कोरोनावायरस संक्रमण के मामले बढ़कर तीन हो गए हैं। तीसरा मामला हावड़ा के उत्तरी 24 परगना का है। यह जानकारी अधिकारियों ने शनिवार को दी। कोविड-19 से संक्रमित पाई गई महिला की उम्र 20 वर्ष के आसपास है। वह 15 मार्च को स्कॉटलैंड से आई थी।

उसे राज्य के संक्रामक रोगों का इलाज करने वाले अस्पताल आईडी हॉस्पिटल बेलियाघाट के एक अलग आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है।

राज्य के स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों ने कहा कि उसके परिवार के सदस्यों को घर से बाहर न निकलने के लिए कहा गया है।

महिला के परिवार के अनुसार, वह स्कॉटलैंड से लौटने के बाद से ही घर में अलग-थलग थी।

हालांकि, उसे खांसी और बुखार हो गया और गुरुवार को आईडी अस्पताल में भर्ती कराया गया।

युवती के रक्त के नमुने जांच के लिए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ कोलेरा एंड एंट्रिक डीजिज (एनआईसीईडी) को शुक्रवार को भेजा गया। जहां टेस्ट पॉजिटिव आया।

कोविड-19 संक्रमित मामला सामने आने पर नोएडा की हाउसिंग सोसायटी सील 
नोएडा सेक्टर-74 में एक निवासी के कोविड-19 संक्रमित होने का मामला सामना आते ही एक ग्रुप की हाउसिंग सोसायटी को सील कर दिया गया है। गौतम बुद्ध नगर के जिला मजिस्ट्रेट बी.एन.सिंह ने उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव, प्रधान सचिव और अन्य अधिकारियों को संबोधित करते हुए एक पत्र जारी कर इस हाउसिंग सोसायटी को सील करने का आदेश पारित किया है।

उन्होंने कहा, "महामारी रोग अधिनियम-1897 की धारा-2 के तहत नोएडा के सेक्टर-74 की सुपरटेक केपटाउन ग्रुप हाउसिंग को तत्काल प्रभाव से सील किया जाता है।"

पत्र में कहा गया है कि एक कोविड-19 संक्रमित व्यक्ति इस सोसायटी में रहता है। लिहाजा इस संक्रमण के संचरण की श्रृंखला को तोड़ने के लिए हाउसिंग सोसायटी के पूरे परिसर को अस्थाई तौर पर लॉकडाउन करने की जरूरत है। यह आदेश 21 मार्च के सुबह 10 बजे से 23 मार्च की सुबह 7 बजे तक लागू रहेगा।

बिहार में कोरोना के 504 संदिग्ध मरीजों की पहचान, एक भी मामला पॉजिटिव नहीं
बिहार में कोरोनावायरस के संदिग्ध मरीजों की संख्या में वद्घि देखी जा रही है। हालांकि अभी तक एक भी मामला पॉजिटिव नहीं पाया गया है। बिहार में अब तक 504 संदिग्धों की पहचान की गई है, इनमें से 16 संदिग्धों को आइसोलेशन से मुक्त भी कर दिया गया है। इन्हें 14 दिनों के लिए आइसोलेशन पर रखा गया था। इस बीच, नेपाल से सटे 49 स्थानों पर बिहार में आने वाले लोगों की जांच की जा रही है। बिहार के स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने शनिवार को बताया कि 15 जनवरी से शुक्रवार तक बिहार में कोरोना वारयरस से संक्रमित देशों से लौटे 504 यात्रियों को निगरानी में रखा गया है। इनमें से 116 यात्रियों ने 14 दिनों की सर्विलांस की अवधि पूरी कर ली है।

उन्होंने बताया कि पटना और गया हवाईअड्डों पर आने वाले लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग कराई जा रही है। अब तक इन दोनों हवाईअड्डों पर 20 हजार से ज्यादा यात्रियों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है। अब तक 79 संदिग्ध लोगों से लिए गए नमूनों की जांच कराई गई है, लेकिन बिहार में एक भी मामला पॉजिटिव नहीं पाया गया है।

विभाग के मुताबिक, नेपाल से सटे बिहार के सात जिलों के 49 स्थानों पर नेपाल से आने वाले लोगों की निगरानी रखी जा रही है। अधिकारी के अनुसार, अब तक इन स्थानों पर ढाई (2़ 50) लाख से अधिक लोगों की जांच कराई गई है, लेकिन एक भी मामला सामने नहीं आया है।इधर, सरकार कोरोनावायरस के संक्रमण से बचने के लिए सभी एहतियाती उपाय कर रही है। बिहार सरकार ने सभी जिलों में शॉपिंग माल, जिम, स्विमिंग पुल, सिनेमाघरों और स्पा सेंटर को 31 मार्च तक बंद करने का आदेश जारी किया है। शादी-विवाह के कार्यक्रमों को छोड़कर किसी भी स्थान पर 50 से अधिक लोगों के एकत्र होने पर भी रोक लगा दी गई है।

गौरतलब है कि बिहार में सरकार ने स्कूल, कालेज, हॉस्टल, पार्क, चिड़ियाघर और म्यूजियम को 31 मार्च तक के लिए पूरी तरह से बंद किया जा चुका है। शिक्षा विभाग ने सभी कॉलेजों और विश्वविद्यालयों को 31 मार्च तक बंद रखने का आदेश जारी किया था। इसके बाद सभी सरकारी और प्राइवेट हस्टल 31 मार्च तक बंद करने का आदेश दिया गया। इस बीच, राज्य के अधिक मंदिरों को भी बंद कर दिया गया है।

हरियाणा में 6 मामलों की पुष्टि, पानीपत पहुंचा कोरोनावायरस
हरियाणा में कोरोनावायरस से संक्रमित रोगियों की संख्या बढ़कर छह हो चुकी है। फरीदाबाद और पानीपत में कोरोनावायरस के नए रोगी सामने आए हैं। पानीपत में एक 21 वर्षीय युवक कोरोनावायरस से संक्रमित पाया गया है। यह 21 वर्षीय युवक हाल ही में इंग्लैंड की यात्रा कर स्वदेश लौटा है। वहीं फरीदाबाद में स्पेन से लौटे एक 52 वर्षीय व्यक्ति में कोरोनावायरस के होने की पुष्टि हुई है। इनके अलावा गुरुग्राम के चार अन्य व्यक्तियों में भी कोरोनावायरस पॉजिटिव पाया गया है। यह सभी लोग हाल ही में विदेश यात्रा करके भारत लौटे थे।

स्वास्थ्य विभाग में सावधानी बरतते हुए कोरोनावायरस के टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए इन लोगों के परिजनों को पृथक रखा गया है। वहीं ऐसे लोगों की भी जांच और उन्हें बाकी समाज से पृथक रखा जा रहा है, जिनके संपर्क में पिछले दिनों कोरोना के ये रोगी आए हैं। हरियाणा के अलग-अलग अस्पतालों में अभी तक 64 व्यक्तियों को भर्ती कराया गया है, जिनमें से 32 को पूरी तरह स्वस्थ पाने के बाद अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है। हरियाणा में कोरोनावायरस के संदेह में 6,076 लोगों को सर्विलांस पर रखा गया है। बड़ी संख्या में लोगों को घरों में अन्य लोगों से अलग-थलग रहने की सलाह दी गई है।

उप्र के स्वास्थ्य मंत्री भी करावाएंगे कोरोना जांच
कोरोनावायरस से पीड़ित बॉलीवुड गायिका कनिका कपूर के जश्न में अफसरों से लेकर राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे व उनके सांसद बेटे दुष्यंत सिंह समेत बड़े नेताओं का जमावड़ा हुआ। उस पार्टी में उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री भी परिवार के साथ पहुंचे थे। अब वह भी जांच करवाएंगे।

जबलपुर में कोरोनावायरस के 4 मरीज मिले
जबलपुर, 20 मार्च (आईएएनएस)| मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस ने दस्तक दे दी है। जबलपुर में चार लोगों के कोरोनावायरस संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। इन सभी को मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है।

 

 

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters