Looking for
  • Home
  • Blogs
  • NIrog Tipsपौधे आधारित आहार का सेवन कर दिल का रखें बेहतर ख्याल

पौधे आधारित आहार का सेवन कर दिल का रखें बेहतर ख्याल

User

By NS Desk | 20-Mar-2020

 heart

लंदन| एक हालिया शोध में इस बात का खुलासा हुआ है कि जो लोग प्लांट बेस्ट डायट या पौधे आधारित आहार का सेवन करते हैं और मिठाई, रिफाइंड अनाज और जूस इत्यादि से परहेज करते हैं, उनके दिल का स्वास्थ्य उन लोगों से बेहतर रहता है, जो पौधे आधारित आहार का सेवन नहीं करते हैं। साल 2002 में शुरू हुए इस शोध में 10 साल की अवधि में शोधकर्ताओं ने 2,000 से अधिक ग्रीक वयस्कों के खान-पान और उनके दिल पर इसके प्रभाव पर नजर रखा।

प्रतिभागियों को नामांकन के वक्त पांच और 10 साल के बाद विस्तृत भोजन आवृत्ति सर्वेक्षण को पूरा करने के लिए कहा गया था।

ग्रीस में हेरोकॉपियो विश्वविद्यालय के प्राध्यापक और इस शोध के प्रमुख अध्ययनकर्ता डेमोस्थेनीज पानाजिओटाकोज ने कहा, "दैनिक जीवन में डिब्बाबंद मीट जैसे पशु आधारित उत्पादों की खपत में थोड़ी-सी कमी लाकर पौधे आधारित आहार के सेवन में वृद्धि लाने से यह हृदय के बेहतर स्वास्थ्य में अपना अहम योगदान दे सकता है।"

अध्ययन की अवधि के अंत तक शोधकर्ताओं ने आहार और हृदय रोगों के बीच संबंध का विश्लेषण एक आहार सूचकांक का उपयोग करते हुए किया, जिसमें पशु आधारित खाद्य उत्पादों (इसमें मीट, अंडे, दुग्ध उत्पाद जैसी पशुओं से मिलने वाली कई खाने-पीने की चीजें शामिल थी) के आधार पर प्रतिभागियों को तीन समूहों में विभाजित किया गया, जिनका सेवन वे प्रतिदिन करते थे।

कुल मिलाकर देखा गया कि पशु आधारित खाद्य पदार्थो का सेवन जो ज्यादा करते हैं, उनकी तुलना में जो इन्हें कम खाते हैं, उनमें हृदय रोगों के विकास होने की संभावना 25 प्रतिशत तक कम देखी गई।

अमेरिका में 28-30 मार्च को वर्ल्ड कांग्रेस ऑफ कार्डियोलॉजी के साथ अमेरिकी कॉलेज ऑफ कार्डियोलॉजी के वार्षिक सत्र में इस शोध को प्रस्तुत किया जाएगा।  (आईएएनएस)

और पढ़े - वजन घटाने के लिए भरपेट नाश्ता और हल्का डिनर करे

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters