Looking for

एक्जिमा का आयुर्वेद से ऐसे करें उपचार

User

By NS Desk | 03-Jan-2019

त्वक शोथ - पामा - एक्जिमा (dermatitis - eczema)

- डॉ. अभिषेक गुप्ता

यह एक बेहद सामान्य त्वचा विकार है जिसमें रोगी की त्वचा में बहुत छोटे चकत्ते या उभार निकल आते हैं, इनमें अधिकांशतः जलन (दाह) व खुजली (कण्डु) बहुत अधिक मात्रा में होती है।

यह समस्या अधिकतर शरीर के खुले हिस्सों जैसे चेहरा, हाथ व पैर के खुले भाग, गर्दन व पीठ के ऊपर के हिस्सों में अधिक होती है।

इसके अधिकांशतः सामान्य कारण निम्न होते हैं:

1. परिवार में किसी को यह समस्या होने पर (पारिवारिक इतिहास)

2 . किसी दवा की एलर्जी से

3 . पाचन से सम्बंधित समस्या विशेषकर अजीर्ण या विबंध होने पर

4 . धूप से एलर्जी होने पर

5 . व्याधिक्षमत्व का क्षय होने पर

6 . अधिक क्रोध या मानसिक तनाव रहने पर

7 . मधुमेह रोगी में यह रोग अधिक होने की सम्भावना होती है

8 . किसी अन्य तरह के इन्फेक्शन या एलर्जी से जैसे बिंदी, सिन्दूर, आई लाइनर, हेयर डाई, गहने, सुगन्धित स्प्रे, पाउडर, मोज़े, दस्तानों, जूते आदि के प्रयोग से, खाने की कोई चीज़ जैसे भिंडी, अरबी, बैगन, लहसुन, मूंगफली आदि

(इस रोग से जुड़े अन्य लक्षण व जानकारियों के लिए शास्त्रों का अध्यन अवश्य करें)

चिकित्सा:

-तली-भुनी, मिर्च-मसाले वाली चीज़ों व उष्ण तासीर या उष्ण वीर्य वाले खाद्य पदार्थों का प्रयोग बिल्कुल न करें.

-रोगी को हल्के-सूती व स्वच्छ वस्त्रों को नियमित रूप से प्रयोग करने को कहें।

-किसी अच्छे आयुर्वेदिक चिकित्सक से परामर्श लें और फिर उपचार शुरू करें.

( डॉ. अभिषेक गुप्ता निरोगस्ट्रीट के सह संस्थापक हैं. उनसे [email protected] के जरिए संपर्क किया जा सकता है)

* कृपया चिकित्सक से परामर्श कर ही किसी भी तरह के उपचार को अपनाएँ.

यह भी पढ़ें - बेर में छुपा है सेहत का खजाना, रामचरितमानस में भी मिलता है वर्णन

अंगूर खायेंगे तो कैंसर की होगी छुट्टी

सीताफल (शरीफा) खाने के 15 फायदे

दुनिया की सबसे महंगी जड़ी-बूटी, कीमत जानकर चौंक जायेंगे

हृदय रोग में भी लाभकारी है मुलेठी

अखरोट को यूं ही नहीं कहते पावर फूड, जानिए इसके फायदे

मधुमेह के साथ-साथ कैंसर के खतरे को भी कम करता है करेला

निरोग रहना है तो डिनर में आयुर्वेद के इन 10 सुझावों को माने

अमेरिका ने भी माना गोमूत्र को अमृत, फायदे जानकर रह जायेंगे हैरान

सत्वावजय चिकित्सा से 'आदर्श' को मिली चंद मिनटों में राहत, डॉ. गरिमा ने दिखाया 'आयुर्वेद पावर'

आयुर्वेदिक साइकोथैरेपी है सत्वावजय चिकित्सा : डॉ. गरिमा सक्सेना

आयुर्वेद में स्वाइन फ्लू का पूर्ण इलाज संभव

एक्जिमा का आयुर्वेद से ऐसे करें उपचार

भांग से कैंसर का इलाज

आयुर्वेदिक इलाज की बदौलत 8 महिलाओं को मिला मातृत्व सुख, यूके और यूएस के चिकित्सक भी

हरियाणा में प्रधानमंत्री मोदी ने रखी राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान की आधारशिला

आयुर्वेद के तीन डॉक्टरों ने खोजा हाइपो-थायरॉइड की औषधि - 'जलकुंभी भस्म कैप्सूल'

निरोगस्ट्रीट की संगोष्ठी में चिकित्सकों ने कहा,आयुर्वेद है सबसे तेज

आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का वैश्विक बाजार 14 बिलियन डॉलर

अखबार में लिपटे खाने से हो सकता है कैंसर, जानिए पांच नुकसान

आयुर्वेद ज्ञान की ललक में भारत पहुंची अमेरिका की डॉ. निकोल विल्करसन

केरल में खुला एशिया का पहला स्पोर्ट्स आयुर्वेद अस्पताल

डॉ. आशीष कुमार से जानिए आयुर्वेद और बीमारियों से संबंधित 10 कॉमन सवालों के जवाब

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters