Looking for
  • Home
  • Blogs
  • CoronaVirus Newsहेटेरो ने मोलनुपिरवीर के अंतरिम क्लीनिकल परिणामों की घोषणा की

हेटेरो ने मोलनुपिरवीर के अंतरिम क्लीनिकल परिणामों की घोषणा की

User

By NS Desk | 09-Jul-2021

हैदराबाद, 9 जुलाई (आईएएनएस)। विश्व स्तर पर प्रसिद्ध वर्टिकली इंटीग्रेटेड फार्मास्युटिकल संगठन हेटेरो ने शुक्रवार को पूरे भारत में कई कोविड-समर्पित अस्पताल साइटों पर आयोजित हल्के कोविड रोगियों में मोलनुपिरवीर के तीसरे चरण के क्लीनिकल परीक्षणों के अंतरिम की घोषणा की।

परीक्षणों ने अकेले मानक देखभाल की तुलना में हल्के कोविड रोगियों में मोलनुपिरवीर उपचार के साथ सांख्यिकीय रूप से महत्वपूर्ण कम अस्पताल में प्रवेश, क्लीनिकल सुधार के लिए तेज समय और शुरूआती निगेटिव सार्स सीओवी-2 आरटी पीसीआर का प्रदर्शन किया।

कंपनी ने कहा कि उन्होंने भारत में मोलनुपिरवीर के लिए आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण की मांग के लिए ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) से संपर्क किया है।

इस साल अप्रैल में, हेटेरो ने भारत में मोलनुपिरवीर के निर्माण और आपूर्ति के लिए एमएसडी (मर्क एंड कंपनी, इंक, केनिलवर्थ, एनजे, यूएस का व्यापार नाम) के साथ एक गैर-अनन्य लाइसेंसिंग समझौता किया था।

मोलनुपिरवीर एक शक्तिशाली राइबोन्यूक्लियोसाइड एनालॉग का एक खोजी, मौखिक रूप से प्रशासित रूप है, जिसे एमएसडी द्वारा विश्व स्तर पर विकसित किया जा रहा है, जो एसएआरएस-सीओवी -2, कोविड -19 के प्रेरक एजेंट सहित कई आरएनए वायरस की प्रतिकृति को रोकता है, जिसमें एसएआरएस-सीओवी- के खिलाफ प्रदर्शन गतिविधि है। मानव वायुमार्ग उपकला कोशिका संस्कृतियों में 2 और 5 दिनों के भीतर शरीर से सासई सीओवी-2 को पूरी तरह से समाप्त करने की क्षमता है।

हेटेरो ने 1,218 हल्के कोविड -19 रोगियों पर एक चरण-तीन तुलनात्मक, या²च्छिक, बहुकेंद्रीय क्लीनिकल परीक्षण शुरू किया था। इन क्लीनिकल परीक्षणों का उद्देश्य मोलनुपिरवीर प्लस मानक देखभाल (परीक्षण शाखा) बनाम अकेले देखभाल के मानक (नियंत्रण शाखा) की प्रभावकारिता और सुरक्षा का मूल्यांकन करना था, कोविड -19 रोगियों में पॉजिटिव सार्स सीओवी-2 आरटी पीसीआर परीक्षण के साथ कोविड-19 और लक्षणों की शुरूआत के 5 दिनों के भीतर या²च्छिक है।

क्लिनिकल परीक्षण में मरीजों को या तो हेटेरो के मोलनुपिरवीर कैप्सूल 800 मिलीग्राम (4 इन्टू 200 मिलीग्राम) हर 12 घंटे (दो बार दैनिक) 5 दिनों के लिए भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के दिशानिदेशरें के अनुसार देखभाल के मानक के साथ प्राप्त करने के लिए या²च्छिक किया गया था या, अकेले देखभाल के मानक प्राप्त करने के लिए नियंत्रण शाखा में है।

कंपनी ने कहा कि 741 हल्के कोविड -19 रोगियों के अंतरिम परिणामों से उत्साहजनक परिणाम सामने आए।

देखभाल के मानक की तुलना में मोलनुपिरवीर समूह में पहले क्लीनिकल सुधार (डब्ल्यूएचओ क्लीनिकल प्रोग्रेसिव स्केल में 2 अंक की कमी) देखा गया था।

अकेले देखभाल समूह में 12 दिनों की तुलना में मोलनुपिरवीर समूह में क्लीनिकल सुधार का औसत समय 8 दिनों का था।

इससे पहले सार्स सीओवी-2 आरटी-पीसीआर निगेटिव मोलनुपिरवीर समूह में देखभाल के मानक की तुलना में देखी गई थी। मोलनुपिरवीर समूह में कम लोग अस्पताल में भर्ती हुए थे।

किसी भी समूह में कोई मृत्यु दर नहीं थी। सभी प्रतिकूल घटनाएं गैर-गंभीर थीं, गंभीरता में हल्की थीं, और किसी ने भी दवा बंद नहीं की। रिपोर्ट की गई सबसे आम प्रतिकूल घटनाएं मतली, दस्त और सिरदर्द थीं जिन्हें पूरी तरह से हल किया गया था।

इन क्लीनिकल परीक्षण अध्ययनों के अलावा, हेटेरो सीडीएससीओ द्वारा अनुमोदित मध्यम कोविड -19 रोगियों पर एक अलग मोलनुपिरवीर अध्ययन भी कर रहा है। उस पर अंतरिम और अंतिम क्लीनिकल परिणाम नियत समय में साझा किए जाएंगे।

--आईएएनएस

एसएस/आरजेएस

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters