Looking for
  • Home
  • Blogs
  • CoronaVirus Newsस्वीडन 2022 तक महामारी कानून का विस्तार करेगा : पीएम

स्वीडन 2022 तक महामारी कानून का विस्तार करेगा : पीएम

User

By NS Desk | 13-Aug-2021

स्टॉकहोम, 13 अगस्त (आईएएनएस)। स्वीडन की सरकार कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए प्रतिबंधों को लागू करने की अनुमति देने वाले कानून का विस्तार करने के लिए तैयार है। प्रधानमंत्री स्टीफन लोफवेन ने गुरुवार को यह घोषणा की।

लोफवेन ने सार्वजनिक स्वास्थ्य एजेंसी के साथ एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा, बिगड़ती स्थिति या नए प्रकोप की स्थिति में स्वीडन को अच्छी तरह से तैयार रहना चाहिए। संक्रमण का प्रसार अब निम्न स्तर पर नहीं है।

सिन्हुआ समाचार एजेंसी ने बताया कि महामारी कानून 10 जनवरी को पेश किया गया था और इसे 30 सितंबर को समाप्त होना था। अब इसे 31 जनवरी, 2022 तक बढ़ाए जाने की उम्मीद है।

महामारी कानून के तहत, सरकार बार और रेस्तरां के खुलने के समय के साथ-साथ सार्वजनिक कार्यक्रमों में, दुकानों में और लंबी दूरी की बस और ट्रेन यात्रा में लोगों की संख्या को सीमित कर सकती है।

सार्वजनिक स्वास्थ्य एजेंसी ने प्रधानमंत्री की घोषणा का स्वागत किया। एजेंसी के महानिदेशक जोहान कार्लसन ने कहा, हमने देखा है कि स्थिति तेजी से बदल सकती है, जिससे अधिक आक्रामक रूपांतर हो सकते हैं।

सरकार ने एजेंसी को शरद ऋतु के दौरान कोविड -19 के प्रकोप के जोखिम का विश्लेषण करने का भी काम सौंपा है।

हालांकि, गर्मी की छुट्टियों की शुरूआत में प्रतिबंध हटा दिए जाने के बाद से स्थिति और खराब हो गई है, प्रेस कॉन्फ्रेंस में किसी भी नए प्रतिबंध की घोषणा नहीं की गई।

सार्वजनिक स्वास्थ्य एजेंसी के आंकड़ों के अनुसार, 26 जुलाई से 1 अगस्त तक स्वीडन में 3,451 नए संक्रमणों की पुष्टि हुई। यह पिछले सप्ताह की तुलना में 30 प्रतिशत अधिक है।

एजेंसी के आंकड़े यह भी बताते हैं कि गुरुवार तक, 18 वर्ष या उससे अधिक आयु की 80.7 प्रतिशत वयस्क आबादी को कम से कम एक कोविड -19 वैक्सीन की खुराक मिली थी, जबकि 57.6 प्रतिशत को पूरी तरह से टीका लगाया जा चुका है।

--आईएएनएस

एसएस/आरएचए

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters