Looking for
  • Home
  • Blogs
  • CoronaVirus Newsमप्र में कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना

मप्र में कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना

User

By NS Desk | 10-Aug-2021

भोपाल, 10 अगस्त (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारियां जारी है। राज्य में 189 ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किए जा रहे है, यह सभी प्लांट अगले माह सितंबर तक अस्तित्व में आ जाएंगे, ऐसी उम्मीद जताई जा रही है।

लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने बताया कि कोरोना महामारी के उपचार में कारगर ऑक्सीजन की उपलब्धता को सुनिश्चित करने के लिये प्रदेश में 189 पीएसए ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं। अब तक 57 ऑक्सीजन प्लांट को स्थापित कर शुरू कर दिया गया है, शेष को सितम्बर अंत तक प्रारंभ किया जाएगा।

मंत्री डॉ. चौधरी ने बताया, पीएसए ऑक्सीजन प्लांट सभी चिकित्सा महाविद्यालय और जिला चिकित्सालय में स्थापित किये जा रहे हैं। इनमें 11 चिकित्सा महाविद्यालय और 83 प्लांट जिला चिकित्सालयों में लगाये जा रहे हैं। सिविल अस्पतालों में 48, सामुदायिक संस्थाओं में 41 और अन्य शासकीय स्वास्थ्य संस्थाओं में 6 पीएसए ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किये जा रहे हैं।

मंत्री डॉ. चौधरी ने बताया, लांजी, बारासिवनी, सेंधवा, लहार, बैरागढ़, बैरसिया, पाण्डुर्ना, सौंसर, हटा, अमोली, आरोन, हजीरा, पिपरिया, इटारसी, मानपुर, सीहोरा, पेटलावद, थांदला, विजय राघवगढ़, बड़वाह, नैनपुर, भानपुर, सबलगढ़, जावद, सारंगपुर, ब्यावरा, त्यौंथर, नसरुल्लागंज, आष्टा, शुजालपुर, नागदा, गंजबासौदा, भगवानपुरा, गाडरवारा में एक-एक और के.एन. काटजू, कुक्षी, अम्बाह, जावरा, खुरई, मैहर और माधव नगर सिविल अस्पताल में दो-दो प्लांट लगाये जा रहे हैं।

मंत्री डॉ. चौधरी ने बताया कि जिन 41 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में पीएसए ऑक्सीजन प्लांट लगाये जा रहे हैं, तो वहीं एमआरटीबी चिकित्सालय इंदौर, मिल्रिटी चिकित्सालय जबलपुर, एम्स भोपाल, ईएसआई चिकित्सालय नागदा, नेहरू शताब्दी चिकित्सालय सिंगरोली और रेलवे चिकित्सालय जबलपुर में भी एक-एक पीएसए ऑक्सीजन प्लांट लगाये जा रहे हैं।

ज्ञात हो कि कोरोना मरीजों को बीमारी से उबारने के लिए ऑक्सीजन की सबसे ज्यादा जरुरत होती है। कोरेाना की दूसरी लहर के दौरान यह बात सामने आ चुकी है कि ऑक्सीजन की कमी के कारण कई स्थानों पर मरीजों केा मुसीबत का सामना करना पड़ा। इसी को ध्यान में रखकर राज्य के अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किए जा रहे है।

--आईएएनएस

एसएनपी/आरएचए

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters