Looking for
  • Home
  • Blogs
  • CoronaVirus Newsभारत में स्वास्थ्य सेवाओं को किफायती बनाने के लिए आईआईटी दिल्ली का करार

भारत में स्वास्थ्य सेवाओं को किफायती बनाने के लिए आईआईटी दिल्ली का करार

User

By NS Desk | 12-Aug-2021

नई दिल्ली, 12 अगस्त (आईएएनएस)। राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) ने आईआईटी दिल्ली के साथ एक समझौते (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं। इसका उदेश्य सस्ती और गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाओं को उत्प्रेरित करना है। साथ ही यह सांझेदारी भारत में गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाओं को किफायती बनाने में सहायक होगी।

आईआईटी दिल्ली ने कहा कि इस साझेदारी के माध्यम से, एनएचए यूएस एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट (यूएसएआईडी)-समर्थित समृद्ध हेल्थकेयर ब्लेंडेड फाइनेंसिंग फैसिलिटी में एक तकनीकी सहयोगी होगा।

आईआईटी दिल्ली समृद्ध के लिए होस्टिंग इकाई के रूप में कार्य कर रहा है। समृद्ध हेल्थकेयर ब्लेंडेड फाइनेंसिंग सुविधा का उद्देश्य कम आय वाले और कमजोर समुदायों के लिए, विशेष रूप से आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (एबी पीएम-जेएवाई) लाभार्थियों के लिए सस्ती और गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुंच में सुधार के लिए बाजार आधारित स्वास्थ्य समाधानों को उत्प्रेरित करना है।

आईआईटी दिल्ली के निदेशक प्रोफेसर वी रामगोपाल राव ने कहा, हम पीएम-जेएवाई पैनल में शामिल स्वास्थ्य सुविधाओं में स्वास्थ्य सेवाओं को वितरित करने में प्रमुख चुनौतियों का पुनर्निर्माण करने के लिए एनएचए के साथ काम करने के इस अवसर का स्वागत करते हैं। स्वदेशी नवाचारों के साथ अंतराल को दूर करने में उद्यमों का समर्थन करते हैं। समृद्ध व्यावसायिक रूप से व्यवहार्य नवाचारों को बढ़ाने के लिए सस्ती पूंजी की सुविधा के लिए एक मंच प्रदान करेगा। यह सुविधा क्लिनिकल, प्रौद्योगिकी और व्यावसायिक विशेषज्ञों से उद्यमों को मेंटरशिप भी देगी।

समृद्ध ने निजी क्षेत्र और विकास निधि से 100 मिलियन डॉलर से अधिक की पूंजी जुटाई है। स्वास्थ्य सेवा उद्यमों को अनुदान और ऋण दोनों की पेशकश करने के लिए इस फंड का इस्तेमाल किया जा रहा है।

इस साझेदारी के माध्यम से, एनएचए और आईआईटी दिल्ली एबी पीएम-जेएवाई के पारिस्थितिकी तंत्र की जरूरतों और प्राथमिकताओं को पूरा करने के लिए अभिनव समाधानों देंगे। 23,000 से अधिक एबी पीएम-जेएवाई पैनल अस्पतालों में स्वास्थ्य नवाचारों के तेजी से विस्तार के लिए यह सहयोग महत्वपूर्ण होगा।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के सीईओ डॉ आरएस शर्मा ने कहा कि भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान दिल्ली के साथ समृद्ध सुविधा में सहयोग करना हमारे लिए खुशी की बात है। इस साझेदारी के माध्यम से हम उच्च क्षमता वाले स्वास्थ्य समाधानों को बढ़ाने और आयुष्मान भारत के प्रभाव को बढ़ाने के लिए विभिन्न स्वास्थ्य क्षेत्र के संस्थानों के साथ काम करेंगे। मुझे पूरा विश्वास है कि आने वाले वर्षों में, यह साझेदारी भारत में गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाओं को अधिक सुलभ और किफायती बनाने में एक महत्वपूर्ण सहायक होगी।

--आईएएनएस

जीसीबी/एएनएम

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters