Looking for
  • Home
  • Blogs
  • CoronaVirus Newsबेंगलुरु ने कोविड टीकाकरण में 1 करोड़ का आंकड़ा किया पार

बेंगलुरु ने कोविड टीकाकरण में 1 करोड़ का आंकड़ा किया पार

User

By NS Desk | 06-Sep-2021

बेंगलुरू, 6 सितम्बर (आईएएनएस)। कर्नाटक में कोविड वैक्सीन की आपूर्ति के मुद्दे को सुलझाए जाने के बाद से ही वहां अब टीकाकरण के अच्छे परिणाम सामने आने लगे हैं। बेंगलुरु में अब तक कोरोनावायरस की एक करोड़ से ज्यादा खुराकें और राज्य में 4.5 करोड़ खुराके अब तक दी जा चुकी हैं।

वृहत बेंगलुरु महानगर पालिक (बीबीएमपी) के मुख्य आयुक्त गौरव गुप्ता ने रविवार को कहा कि बीबीएमपी ने अब तक बेंगलुरु में कुल 1,14,93,814 कोविड टीके की खुराकें दी है।

उन्होंने कहा, 1 करोड़ से ज्यादा खुराक का मतलब है कि हम हर योग्य वयस्क का टीकाकरण करना जारी रखेंगे। सभी को पूरी तरह से टीका लगाया जाने के बाद ही कोविड -19 से बचा जा सकता है।

उन्होंने इस संबंध में एक विशेष पोस्ट डाला और लिखा, मजबूत बेंगलुरु की ओर एक कदम।

कुल 82.7 लाख लोगों को पहली खुराक दी गई है, जबकि बेंगलुरु शहरी जिले में 32 लाख से ज्यादा लोगों को पूरी तरह से टीका लगाया गया है।

बीबीएमपी सीमा में 76 प्रतिशत लक्षित आबादी को पहली खुराक दी गई है जबकि 30 प्रतिशत आबादी का पूरी तरह से टीकाकरण हो चुका है।

इस बीच, कर्नाटक सरकार ने टीकाकरण अभियान शुरू होने के बाद से रविवार शाम तक 4.5 करोड़ खुराकें दीं, जबकि 3.3 करोड़ लोगों को कोविड वैक्सीन की पहली खुराक दी गई और 1.1 करोड़ लोगों को दोनों खुराकें दी गई हैं।

राज्य सरकार ने तीसरी कोविड लहर की आशंकाओं की पृष्ठभूमि में लोगों को टीका लगाने के लिए विशेष अभियान चलाया है। राज्य हर रोज टीकाकरण की 5 लाख खुराक के लक्ष्य तक पहुंचने और इस साल के अंत तक टीकाकरण की प्रक्रिया को पूरा करने का प्रयास कर रहा है।

देश में महानगरीय शहरों में टीकाकरण के मामले में बेंगलुरू, नई दिल्ली (1,41,02,635) के बाद दूसरे स्थान पर है।

कर्नाटक स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी एक स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार, मुंबई (1,02,67,836), कोलकाता (60,11,947) और चेन्नई (52,24,615) क्रमश: तीसरे, चौथे और पांचवें स्थान पर हैं।

--आईएएनएस

एसएस/आरएचए

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters