Looking for
  • Home
  • Blogs
  • CoronaVirus Newsजे एंड जे सिंगल-डोज टीका को भारत में आपातकालीन मंजूरी मिली

जे एंड जे सिंगल-डोज टीका को भारत में आपातकालीन मंजूरी मिली

User

By NS Desk | 07-Aug-2021

नई दिल्ली, 7 अगस्त (आईएएनएस)। जॉनसन एंड जॉनसन की कोविड-19 के खिलाफ एकल खुराक वाली वैक्सीन को शनिवार को भारत में आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी मिल गई है। जे एंड जे सिंगल-डोज वैक्सीन के साथ, भारत में अब टीकाकरण अभियान को मजबूत करने के लिए कुल 5 आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण टीके (ईयूए) हैं।

अन्य चार में सीरम इंस्टीट्यूट का कोविशील्ड, भारत बायोटेक का कोवैक्सीन, रूस का स्पुतनिक वी और मॉडर्ना शामिल हैं। जे एंड जे के टीके को मंजूरी मिलने से कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई को बढ़ावा मिलने की उम्मीद है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने ट्वीट किया, भारत ने अपनी वैक्सीन टोकरी का विस्तार किया! जॉनसन एंड जॉनसन की एकल-खुराक कोविड-19 वैक्सीन को भारत में आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी दी गई है। अब भारत के पास 5 आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण टीके हैं। यह कोविड-19 के खिलाफ हमारे देश की सामूहिक लड़ाई को और बढ़ावा देगा।

उन्होंने कहा कि इसे भारत की स्वदेशी वैक्सीन निर्माता बायोलॉजिकल ई लिमिटेड के साथ आपूर्ति समझौते के जरिए भारत लाया जाएगा।

जॉनसन एंड जॉनसन इंडिया के प्रवक्ता ने कहा, हमें यह घोषणा करते हुए प्रसन्नता हो रही है कि 7 अगस्त 2021 को भारत सरकार ने भारत में जॉनसन एंड जॉनसन कोविड-19 एकल-खुराक वैक्सीन के लिए आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण (ईयूए) जारी किया, ताकि 18 वर्ष और उससे अधिक उम्र के व्यक्तियों में कोविड को रोका जा सके।

इस बीच, भारत के कोविड-19 टीकाकरण कवरेज ने 50 करोड़ का एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर हासिल किया है और भारत में अब तक कुल 50,10,09,609 लोगों का टीकाकरण हो चुका है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों में कहा गया है कि पिछले 24 घंटों में लगभग 50 लाख लोगों को कोविड वैक्सीन की खुराक दी गई।

जैसा कि भारत ने शुक्रवार को कोविड वैक्सीन लगाने की संख्या में 50 करोड़ का आंकड़ा पार किया, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि महामारी के खिलाफ देश की लड़ाई को मजबूत प्रोत्साहन मिला है।

--आईएएनएस

एसजीके/एएनएम

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters