Looking for
  • Home
  • Blogs
  • CoronaVirus Newsगूगल नेस्ट हब उपयोगकतार्ओं को वायु प्रदूषण, धुएं के बारे में चेतावनी देगा

गूगल नेस्ट हब उपयोगकतार्ओं को वायु प्रदूषण, धुएं के बारे में चेतावनी देगा

User

By NS Desk | 15-Aug-2021

सैन फ्रांसिस्को, 15 अगस्त (आईएएनएस)। गूगल का स्मार्ट स्पीकर नेस्ट हब यूजर्स को अपने आसपास के वायु प्रदूषण और धुएं से आगाह करेगा ताकि वे एहतियाती कदम उठा सकें।

यूएस से शुरू होकर और जल्द ही चुनिंदा बाजारों में उपलब्ध होने के लिए, नए एक्यूआई (वायु गुणवत्ता सूचकांक) बैज नेस्ट हब में घड़ी और मौसम विजेट शामिल किया गया है।

गूगल ने एक अपडेट में कहा कि जंगल की आग के मौसम और हाल ही में वायु प्रदूषण को कम करने के प्रयासों के बीच, आपके क्षेत्र में वायु गुणवत्ता के बारे में जानना पहले से कहीं अधिक महत्वपूर्ण है। इसलिए, हमने नेट हब्स पर परिवेश स्क्रीन पर वायु गुणवत्ता की जानकारी जोड़ी है ताकि आप सूचित और सतर्क रह सकें।

वायु गुणवत्ता डेटा अमेरिकी पर्यावरण संरक्षण एजेंसी (ईपीए) से आता है, जो शून्य से 500 के पैमाने पर वायु गुणवत्ता का मूल्यांकन करता है, जिसमें शून्य सबसे अच्छी वायु गुणवत्ता है।

जब उपयोगकर्ता पूछेंगे कि मेरे आस-पास की वायु गुणवत्ता क्या है? एक वॉयस कमांड के रूप में और संवेदनशील समूहों के लिए हवा की गुणवत्ता अस्वस्थ स्तर या अस्वस्थ होने पर उन्हें अलर्ट मिलेगा।

ईपीए वायु गुणवत्ता की रिपोर्ट करने के लिए यूएस एक्यूआई का उपयोग करता है, जिसमें शून्य-500 से एक संख्या मान और सीखने में आसान रंग योजना शामिल है ताकि आप तुरंत जान सकें कि वर्तमान वायु गुणवत्ता की स्थिति परेशान करने वाली है या नहीं।

उच्च मूल्यों का अर्थ है अधिक वायु प्रदूषण, और प्रत्येक रंग विभिन्न गुणवत्ता श्रेणी का प्रतिनिधित्व करता है, जैसे कि संवेदनशील समूहों के लिए अच्छा, मध्यम, अस्वस्थ, अस्वस्थ, बहुत अस्वस्थ, और खतरनाक।

गूगल ने कहा कि आने वाले हफ्तों में हवा की गुणवत्ता नेस्ट डिस्प्ले में आ जाएगी, और आप संबंधित सूचनाओं को नियंत्रित कर सकते हैं या किसी भी समय अपने डिस्प्ले की सेटिंग में एक्यूआई देखने से ऑप्ट-आउट कर सकते हैं।

--आईएएनएस

एमएसबी/आरजेएस

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters