Looking for
  • Home
  • Blogs
  • CoronaVirus Newsगुरुग्राम: 1,267 गर्भवती महिलाओं ने ली वैक्सीन की पहली खुराक

गुरुग्राम: 1,267 गर्भवती महिलाओं ने ली वैक्सीन की पहली खुराक

User

By NS Desk | 10-Aug-2021

गुरुग्राम, 10 अगस्त (आईएएनएस)। गुरुग्राम के 34 स्वास्थ्य केंद्रों पर आयोजित विशेष टीकाकरण अभियान के पहले दिन 1,267 गर्भवती महिलाओं को पहली, जबकि एक को कोविड-19 वैक्सीन की दूसरी खुराक मिली।

सोमवार को प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत आयोजित शिविर में सभी हितग्राहियों को खुराक दी गई।

जिला सिविल सर्जन, डॉ वीरेंद्र यादव ने कहा, अभियान के तहत जिले में हर माह की 9 तारीख को गर्भवती महिलाओं के लिए टीकाकरण शिविर का आयोजन किया जाएगा। इन शिविरों में उन्हें वैक्सीन की पहली और दूसरी खुराक दी जाएगी। साथ ही गर्भवती महिलाओं का स्वास्थ्य टेस्ट भी किया जाएगा।

उन्होंने आगे कहा कि महिलाओं को बार-बार स्वास्थ्य केंद्र नहीं आना पड़ेगा, इसलिए हर महीने की नौवीं तारीख को स्वास्थ्य जांच और टीकाकरण दोनों के लिए चुना गया है।

टीकाकरण अभियान के नोडल अधिकारी और उप सिविल सर्जन डॉ एम.पी. सिंह ने आईएएनएस को बताया कि सभी महिलाओं को निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार केवल कोवैक्सीन दी जाएगी।

सिंह ने कहा, कोवैक्सीन की पहली और दूसरी खुराक के बीच जो समय सीमा तय की गई है, वह बहुत कम है। इस टीके के माध्यम से, हम यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि गर्भवती महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान अपना पहला और दूसरा एंटी-कोरोना टीका जल्दी मिल जाए।

गर्भावस्था में टीकाकरण क्यों जरूरी है, इस पर डॉ सिंह ने कहा कि अगर गर्भावस्था के दौरान कोई महिला कोरोना वायरस से संक्रमित हो जाती है तो समय से पहले प्रसव होने की संभावना रहती है, बच्चे का वजन 2.5 किलो से कम होगा। साथ ही, कई मामलों में बच्चे की जन्म से पहले ही मौत भी हो सकती है।

उन्होंने कहा कि अगर कोई महिला गर्भावस्था के दौरान कोरोना वायरस से संक्रमित हो जाती है तो उसे प्रसव के बाद ही टीका लगाया जा सकता है।

--आईएएनएस

एचके/आरजेएस

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters