Looking for
  • Home
  • Blogs
  • CoronaVirus Newsगिरती टीकाकरण दरों के बीच अमेरिका में कोविड के मामले बढ़े

गिरती टीकाकरण दरों के बीच अमेरिका में कोविड के मामले बढ़े

User

By NS Desk | 13-Jul-2021

वाशिंगटन, 13 जुलाई (आईएएनएस)। पिछले एक सप्ताह में अमेरिका के 40 से अधिक राज्यों में कोविड-19 के मामले बढ़े हैं क्योंकि टीकाकरण की दर धीमी हो गई है और अत्यधिक संक्रमणीय डेल्टा संस्करण का प्रसार जारी है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के आंकड़ों के अनुसार, देश में पिछले सात दिनों में औसतन 19,455 नए मामले सामने आए हैं, जो कि सप्ताह पहले की तुलना में 47 प्रतिशत से ज्यादा है।

ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के अनुसार, अप्रैल 2020 के बाद से यह सबसे बड़ी साप्ताहिक वृद्धि है।

यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) के निदेशक रोशेल वालेंस्की ने कहा कि जून में संयुक्त राज्य अमेरिका में कोविड-19 की 99 प्रतिशत से अधिक मौतें असंबद्ध लोगों में थीं।

उन्होंने कहा इसके अलावा, प्रारंभिक आंकड़ों से संकेत मिला है कि पिछले छह महीनों में, कई राज्यों में लगभग सभी कोविड-19 की मौत बिना टीकाकरण वाले लोगों में हुई है।

पिछले कुछ महीनों में देश में टीकाकरण की गति में भी तेजी से गिरावट आई है। सीडीसी के आंकड़ों से पता चलता है कि पिछले सप्ताह के दौरान लगभग 246,000 लोगों ने हर दिन टीकाकरण शुरू किया, जो अप्रैल के चरम से 88 प्रतिशत कम था, और पिछले सप्ताह में लगभग 278, 000 लोगों को हर दिन पूरी तरह से टीका लगाया गया था, जो अप्रैल के शिखर से 84 प्रतिशत कम था।

सीडीसी के आंकड़ों के अनुसार, अमेरिका की लगभग 48 प्रतिशत आबादी को कोविड-19 के खिलाफ पूरी तरह से टीका लगाया गया है, और 55.5 प्रतिशत आबादी को रविवार तक कम से कम एक खुराक मिली है।

विशेषज्ञों ने कहा है कि कोविड-19 टीके प्रसार को प्रबंधित करने और वेरिएंट को और भी खतरनाक रूपों में बदलने से रोकने के लिए महत्वपूर्ण हैं।

व्हाइट हाउस के मुख्य चिकित्सा सलाहकार एंथनी फौसी ने सोमवार को कहा, हमें वास्तव में और ज्यादा लोगों को टीका लगवाने की जरूरत है, क्योंकि यही समाधान है। वास्तव में, यह वायरस टीके से सुरक्षित रहेगा।

--आईएएनएस

एसएस/एएसएन

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters