Looking for
  • Home
  • Blogs
  • CoronaVirus Newsकोविड की आशंकाओं को लेकर कर्नाटक में वीकेंड पर फिर लग सकती है पाबंदी

कोविड की आशंकाओं को लेकर कर्नाटक में वीकेंड पर फिर लग सकती है पाबंदी

User

By NS Desk | 01-Aug-2021

बेंगलुरू, 31 जुलाई (आईएएनएस)। बेंगलुरु में सिलिकॉन वैली सहित राज्य में संभावित तीसरी कोविड लहर को गंभीरता से लेते हुए, ब्रुहत बेंगलुरु महानगर पालिका (बीबीएमपी) कर्नाटक को सप्ताह के अंत में प्रतिबंधों की सिफारिश करने और रात में अंकुश लगाने पर गंभीरता से विचार कर रही है।

सूत्र बताते हैं कि राज्य के विभिन्न जिलों और देश भर से लाखों लोग बेंगलुरु आते हैं, इसलिए हाल ही में छूट दी गई पाबंदियों को लागू करना अनिवार्य हो गया है।

लोग बेंगलुरू और अन्य जिला मुख्यालयों में सप्ताह के अंत में बिना कोविड प्रोटोकॉल का पालन किए खुलेआम घूमते पाए जाते हैं। बार को रात नौ बजे तक ग्राहकों को सेवाएं देने की अनुमति है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने कहा कि ये कारक बेंगलुरु में अधिक संख्या में कोविड संक्रमणों में योगदान देंगे।

राज्य सरकार ने पहले ही केरल और महाराष्ट्र से यात्रा करने वालों के लिए आरटी-पीसीआर प्रमाणपत्र अनिवार्य कर दिया है। बीबीएमपी ने फिर से संक्रमण फैलाने से बचने के लिए बेंगलुरु में नियंत्रण क्षेत्र बनाना शुरू कर दिया।

शनिवार को बेंगलुरु में कोविड संक्रमण के मामलों की रोजाना संख्या 450 और 11 मौतें हुईं, जबकि पूरे राज्य में 1,987 पॉजिटिव मामले और 37 मौतें हुईं।

इस बीच, अधिकारियों ने बेंगलुरू के अत्तूर में एक छात्र छात्रावास को सील कर दिया है, जहां आईटीआई की पढ़ाई करने वाले अन्य राज्यों के 8 छात्रों ने कोविड का टेस्ट किया।

एच.डी. पूर्व मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने शनिवार को सरकार को राज्य में संभावित कोविड के प्रकोप के बारे में चेतावनी दी। उन्होंने कहा, हम कोविड के मामलों में स्पाइक देख रहे हैं। हर दिन हम 50 से 100 कोविड मामलों की वृद्धि देख रहे हैं। मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई को स्थिति की निगरानी के लिए जिला स्तर पर जिम्मेदारियां तय करनी चाहिए।

बोम्मई पहले ही कह चुके हैं कि अगर कोविड मामलों को नियंत्रित करने में विफलता होती है तो जिला आयुक्तों को जिम्मेदार ठहराया जाएगा। बीबीएमपी और स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों का कहना है कि अगर यह स्थिति बनी रहती है तो बेंगलुरु और प्रमुख शहरों में नाइटलाइफ और सप्ताहांत पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा जल्द ही की जाएगी।

--आईएएनएस

एचके/एएनएम

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters