Looking for
  • Home
  • Blogs
  • CoronaVirus Newsकोरोना की तीसरी लहर के शुरुआती चरण में है विश्व : डब्ल्यूएचओ प्रमुख

कोरोना की तीसरी लहर के शुरुआती चरण में है विश्व : डब्ल्यूएचओ प्रमुख

User

By NS Desk | 15-Jul-2021

जिनेवा, 15 जुलाई (आईएएनएस)। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के महानिदेशक ट्रेडोस अदनोम घेब्रेयसस ने डेल्टा वेरिएंट को लेकर चेताते हुए कहा है कि डेल्टा वेरिएंट के बढ़ते मामलों के बीच विश्व अब तीसरी लहर के शुरूआती चरण में है।

उन्होंने बुधवार को अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य विनियम आपातकालीन समिति की 8 वीं बैठक में कहा, डेल्टा वेरिएंट का प्रसार के बीच सामाजिक गतिशीलता में वृद्धि और सिद्ध सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों के असंगत उपयोग के साथ, मामलों की संख्या और मौतों दोनों में वृद्धि हो रही है।

विश्व के सबसे बड़े स्वास्थ्य निकाय प्रमुख ने कहा, 10 सप्ताह की गिरावट के बाद, मौतें फिर से बढ़ रही हैं। वायरस का विकास जारी है, जिसके परिणामस्वरूप यह अधिक संक्रमणीय रूप हैं। दुर्भाग्य से, हम अब तीसरी लहर के शुरूआती चरण में हैं।

उन्होंने कहा, डेल्टा वेरिएंट अब दुनिया के 111 देशों में पहुंच चुका है। हमें आशंका है कि यह जल्दी ही दुनिया में कोरोना संक्रमण का सबसे घातक स्ट्रेन साबित होगा।

उन्होंने कहा कि टीकों के वैश्विक वितरण में चौंकाने वाली असमानता है और जीवन रक्षक उपकरणों तक असमान पहुंच है। उन्होंने अफसोस जताया कि कई देशों को अभी भी कोई टीका नहीं मिला है और अधिकांश को पर्याप्त टीका नहीं मिला है।

ट्रेडोस ने कहा, इस असमानता ने दो-ट्रैक महामारी पैदा कर दी है - अर्थात, टीकों की सबसे बड़ी पहुंच वाले देशों के लिए एक ट्रैक, जो प्रतिबंध हटा रहे हैं और लॉकडाउन फिर से खोल रहे हैं और दूसरा ट्रैक उन लोगों के लिए जिनके यहां अभी वैक्सीनेशन नहीं हुआ है। कई देशों को अभी भी कोई टीका नहीं मिला है, और अधिकांश को पर्याप्त टीका नहीं मिला है।

उन्होंने सितंबर तक हर देश की कम से कम 10 प्रतिशत आबादी, 2021 के अंत तक कम से कम 40 प्रतिशत और 2022 के मध्य तक कम से कम 70 प्रतिशत टीकाकरण के लिए बड़े पैमाने पर जोर देने के लिए डब्ल्यूएचओ की अपील को दोहराया।

इस बात पर जोर देते हुए कि अकेले टीके महामारी को नहीं रोकेंगे, ट्रेडोस ने देशों से अनुरूप और सुसंगत ²ष्टिकोण के साथ बने रहने का आह्वान किया। इसका अर्थ है उपलब्ध सार्वजनिक स्वास्थ्य और सामाजिक उपायों की पूरी श्रृंखला का उपयोग करना और सामूहिक समारोहों के लिए व्यापक जोखिम प्रबंधन ²ष्टिकोण अपनाना शामिल है।

उन्होंने जोर देकर कहा, दुनिया भर के कई देशों ने दिखाया है कि इन उपायों से इस वायरस को रोका और नियंत्रित किया जा सकता है।

वैश्विक स्वास्थ्य एजेंसी टीकाकरण की स्थिति को रिकॉर्ड करने के लिए एक सामंजस्यपूर्ण ²ष्टिकोण का समर्थन करने के लिए टीकाकरण और प्रोफिलैक्सिस के लिए अंतर्राष्ट्रीय प्रमाणपत्र को डिजिटल बनाने के विकल्पों की भी समीक्षा कर रही है।

--आईएएनएस

एकेके/एएनएम

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters