Looking for
  • Home
  • Blogs
  • CoronaVirus Newsअबू धाबी ने 19 जुलाई से कोविड से संबंधित प्रतिबंधों की घोषणा की

अबू धाबी ने 19 जुलाई से कोविड से संबंधित प्रतिबंधों की घोषणा की

User

By NS Desk | 16-Jul-2021

दुबई, 16 जुलाई (आईएएनएस)। अबू धाबी के निवासियों को तब तक घर में रहने के लिए कहा गया है जब तक कि आवश्यक ना हो क्योंकि अबू धाबी आपातकाल, संकट और आपदा समिति ने एक नया राष्ट्रीय स्टरलाइजेशन कार्यक्रम शुरू किया है।

यह आदेश, सार्वजनिक स्वास्थ्य की रक्षा और कोविड-19 के प्रसार को रोकने के प्रयासों का हिस्सा है, जो 19 जुलाई से प्रभावी होगा।

प्रतिबंध हर दिन आधी रात से सुबह 5 बजे के बीच लागू रहेगा, जिस समय अधिकारी स्टरलाइजेशनअभियान चलाएंगे।

इस समय यातायात और जनता की किसी भी आवाजाही की अनुमति नहीं दी जाएगी और यदि कोई भोजन और दवा जैसी आवश्यक आपूर्ति के लिए बाहर निकलेगा, तो उसे अबू धाबी पुलिस से परमिट प्राप्त करने की आवश्यकता है।

कोविड -19 के प्रसार को सीमित करने की अपनी रणनीति के हिस्से के रूप में, अबू धाबी आपातकाल, संकट और आपदा समिति ने भी कई सार्वजनिक गतिविधियों की परिचालन क्षमता को अपडेट किया और राजधानी के लिए नई प्रवेश आवश्यकताओं को मंजूरी दी।

19 जुलाई से सार्वजनिक और निजी समुद्र तट, पार्क और स्विमिंग पूल, रेस्तरां और कैफे, जिम, स्पा और होटल, बसों और सार्वजनिक घाटों में जिम 50 प्रतिशत क्षमता से संचालित होंगे।

मॉल 40 फीसदी और सिनेमाघरों को 30 फीसदी क्षमता पर संचालित करना है।

पांच यात्री टैक्सी में अधिकतम तीन यात्रियों और सात यात्री टैक्सी में चार यात्रियों को यात्रा करने की अनुमति होगी।

एंट्री के लिए समिति ने नेगेटिव पीसीआर टेस्ट रिपोर्ट प्राप्त करने के 48 घंटों के भीतर और नेगेटिव डीपीआई रिपोर्ट प्राप्त करने के 24 घंटों के भीतर अमीरात में प्रवेश की अनुमति दी है।

पीसीआर के माध्यम से प्रवेश करने वालों को प्रवेश के चार दिन (यदि चार दिन या उससे अधिक समय तक रहना है) पीसीआर टेस्ट और आठ दिन (आठ दिन या उससे अधिक रहने वालों के लिए) एक अतिरिक्त टेस्ट करना होगा।

डीपीआई के माध्यम से प्रवेश करने वालों को प्रवेश के तीन दिन (48 घंटे या उससे अधिक के ठहरने के लिए) एक पीसीआर टेस्ट और सात दिन या उससे अधिक रहने वालों के लिए सात दिन अतिरिक्त पीसीआर टेस्ट करना होगा।

ये प्रक्रियाएं सभी टीकाकृत और गैर-टीकाकृत नागरिकों और निवासियों पर लागू होती हैं और आवश्यक टेस्ट करने में विफल रहने वाले किसी भी व्यक्ति पर जुर्माना लगाया जाएगा।

समिति ने समुदाय के सदस्यों से सार्वजनिक स्वास्थ्य लाभ को बनाए रखने के लिए निवारक उपायों का पालन करने, शारीरिक दूरी बनाए रखने और सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनने का आह्वान किया है।

--आईएएनएस

एचके/आरजेएस

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters