Looking for

कैशोर गुग्गुलु के फायदे : Kaishore Guggulu Benefits In Hindi

User

By NS Desk | 01-Jul-2021

Kaishore Guggulu

कैशोर गुग्गुलु - वातरोग (Gout) में लाभकारी :  Kaishore Guggulu  Useful in Gout 

  • यह कैशोर गुग्गुलु नामक प्रसिद्ध योग समस्त प्रकार के कुष्ठ, त्रिदोषज विकार, व्रण(घाव), गुल्म, प्रमेह, उदर रोगों में उपयोगी है.
  • यह बढे हुए यूरिक एसिड को नियंत्रित करने के लिए एक प्रसिद्ध आयुर्वेदिक औषधि है
  • यह रसायन व कांतिवर्धक है एवं इसके सेवन से त्वाचागत विकार नष्ट होते हैं

कैशोर गुग्गुलु के फायदे : Kaishore Guggulu Benefits In Hindi 

  • शरीर में किसी प्रकार के दर्द व सूजन को दूर करता है
  • प्राकृतिक जीवाणुरोधी है, रोगों के प्रति प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है
  • अपक्व रस का पाचन करता है जिसके परिणामस्वरूप उत्तम धातुओं का निर्माण होता है
  • रसायनगुण होने के कारण शरीर को उर्जावान बनाये रखता है
  • रेचकगुण होने के कारण पेट साफ़ करता है एवं विषात्क तत्वों को बाहर निकालता है
  • जोड़ो की सूजन और दर्द को कम करता है

यह भी पढ़े ► योगराज गुग्गुलु के फायदे 

कैशोर गुग्गुलु - बीमारियों में लाभदायक : Kaishore Guggulu - Beneficial In Diseases In Hindi

  • वात रोग (Gout)
  • कुष्ठ (Skin Disorders)
  • व्रण (Wound)
  • गुल्म (Gas Trouble)
  • मधुमेह (Diabetes)
  • मधुमेह पीड़िका (Diabetic Carbuncles)
  • उदररोग (Abdominal Disorders)
  • मन्दाग्नि (Dyspepsia)
  • कास - श्वास ( Respiratory Problems)
  • शोथ (Inflammation)
  • पान्डु रोग (Anemia)
  • नेत्र रोग (Eye Disorders)

कैशोर गुग्गुलु की खुराक : Kaishore Guggulu Dose In Hindi  

  • एक से दो टेबलेट का सेवन सुबह - शाम रोगानुसार अनुपान के साथ लेना चाहिए
  • संधिवात, आमवात, वातरक्त व अन्य वात-विकारों में महारास्नादि क्वाथ के साथ , 
  • मन्दाग्नि व पाचन ठीक न होने पर कुमार्यासव के साथ, 
  • कास में द्राक्षासव के साथ, 
  • श्वास रोगों में कनकासव के साथ, 
  • नेत्र रोगों में त्रिफला क्वाथ के साथ, 
  • पान्डु रोग (एनीमिया) में लोहासव के साथ इसका सेवन करना चाहिए
  • चिकित्सक की सलाहानुसार औषधि का सेवन सर्वश्रेष्ठ होगा 

यह भी पढ़े ► त्रिफला गुग्गुल के फायदे

कैशोर गुग्गुलु के सेवन के समय क्या खाएं और क्या न खाएं ? 

  • अपथ्य -  इस योग के सेवन काल में अम्ल (खट्टे पदार्थ), तीक्षण (तीखे पदार्थ), मैथुन, परिश्रम, धूप, मद्यपान एवं क्रोध का परित्याग करना चाहिए. 
  • पथ्य - दूध, सब्जियां, फलियाँ, सलाद, कम नमक, गरम दूध, घी इत्यादि.

उंझा के कैशोर गुग्गुलु में शामिल जड़ी - बूटियां / घटक - द्रव्य : Herbs / Components Used In Kaishore Guggulu 

  • गुग्गुलु
  • हरडे
  • बहेडा
  • आमला
  • शुंठ
  • कालामरी
  • पीपर
  • वावडिंग
  • नसोत्तर
  • दंतीमूल
  • गिलोय
  • घी
  • एक्सिपियन्ट्स

कैशोर गुग्गुलु की पैकिंग  : Kaishore Guggulu Packing 

  • 60, 200, 1000 टेबलेट 

कैशोर गुग्गुलु की ऑनलाइन खरीद  और कीमत : Buy Kaishore Guggulu Online 

संदर्भ - उंझा गुग्गुलु  बुकलेट 

►यह भी पढ़े -  मेदोहर गुग्गुलु के फायदे

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters