Looking for
  • Home
  • Blogs
  • Ayurveda Streetवैद्य बालेंदु प्रकाश को इस शोध के लिए मिला था 'पद्मश्री'

वैद्य बालेंदु प्रकाश को इस शोध के लिए मिला था 'पद्मश्री'

User

By NS Desk | 09-Jan-2019

Vaidya Balendu Prakash

आयुर्वेद के क्षेत्र में शोध के लिए पद्मश्री

उत्तराखंड के वैद्य बालेंदु प्रकाश (Vaidya Balendu Prakash) देश के जाने-माने वैद्य हैं। उन्हें 20 साल पहले अपने शोध के लिए पद्मश्री ( Padmashree) मिला था। उन्होंने 1997 में एक्यूट प्रोमाइलोसिटिक ल्यूकेमिया (Acute promyelocytic leukemia) (एक तरह का ब्लड कैंसर) के उपचार की आयुर्वेदिक दवा (Ayurvedic Medicine) पर शोध (Research) किया था। यह एक बेहद गंभीर बीमारी है, जिसमें प्लेटलेट्स (Platelets) की कमी और ब्लीडिंग (Bleeding) के कारण ज्यादातर मरीजों (Patient) की मौत हो जाती है।

एक्यूट प्रोमाइलोसिटिक ल्यूकेमिया के उपचार की आयुर्वेदिक दवा पर शोध  - Research on Ayurvedic medicine for the treatment of acute promyelocytic leukemia

वैद्य बालेंदु प्रकाश के पिता भी वैद्य थे और उन्होंने 1982 में उस दवा से एक बच्चे का उपचार किया था। वैद्य बालेंदु ने उसी दवा से कई मरीजों का उपचार किया। उनके अनुरोध पर सरकार ने उनके शोध प्रोजेक्ट को मंजूरी दी। जिसके तहत 3।30 लाख रुपये की धनराशि स्वीकृत की गई और 15 मरीजों का उपचार करने को कहा गया। 90 दिन के उपचार के दौरान चार मरीजों की मौत हो गई, लेकिन जिन 11 मरीजों ने 90 दिन का उपचार करवाया, वह सभी जीवित रहे। इस पर नेशनल रिसर्च डेवलपमेंट कॉरपोरेशन ( National Research Development Corporation) ने इसका यूएस और यूरोपियन पेटेंट प्राप्त किया। साथ ही केंद्रीय आयुर्वेद अनुसंधान परिषद (Central Council of Ayurveda Research) के साथ शोध को आगे बढ़ाने के लिए एमओयू (MOU) हुआ।

20 साल में शोध पर काम आगे नहीं बढ़ा

एक्यूट प्रोमाइलोसिटिक ल्यूकेमिया के उपचार की जिस आयुर्वेदिक दवा पर शोध के लिए वैद्य बालेंदु प्रकाश को पद्मश्री मिला था, वह अबतक एक कदम भी आगे नहीं बढ़ पाया है। हाल ही यह मामला लोकसभा में उठा भी। इस मसले पर पद्मश्री वैद्य बालेंदु प्रकाश कहते हैं कि पिछले 20 वर्षों के दौरान इस शोध को लेकर कार्य किया जाता तो यह फायदेमंद होता।

(इनपुट - विकिपीडिया - अमर उजाला)

यह भी पढ़े ► वैद्य बालेंदु प्रकाश और डॉ. विनोद जोशी समेत 55 आयुर्वेदिक चिकित्सकों को राष्ट्रीय गुरु की पदवी

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters