Looking for
  • Home
  • Blogs
  • Ayurveda Streetभारतीय अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला में आयुष मंत्रालय का पवेलियन

भारतीय अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला में आयुष मंत्रालय का पवेलियन

User

By NS Desk | 15-Nov-2021

Ministry of Ayush s Pavilion at IITF news in hindi

नई दिल्ली के प्रगति मैदान में रविवार को भारतीय अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला के पहले दिन आयुष मंत्रालय के पवेलियन में मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान के योगाचार्यों द्वारा लाइव फ्यूजन योग प्रदर्शन, विभिन्न आयुष धाराओं के विशेषज्ञों द्वारा मुफ्त चिकित्सा परामर्श और पोषण-युक्त तथा अच्छे स्वास्थ्य को बढ़ावा देने वाले विभिन्न खाद्य पदार्थों का प्रदर्शन आकर्षण के प्रमुख केंद्र रहे।

पवेलियन में आयोजित गतिविधियां 'समग्र स्वास्थ्य, पौष्टिक आहार' के विषय के इर्द-गिर्द घूमने वाली रहीं, जिसे आयुष मंत्रालय विभिन्न भारतीय पारंपरिक चिकित्सा पद्धतियों के माध्यम से प्रचारित करता है। आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी, सिद्ध और होम्योपैथी धाराओं के विभिन्न संस्थानों और अनुसंधान निकायों ने प्रगति मैदान के हॉल नंबर 10 में आयुष मंत्रालय के मंडप में लोगों को इस बारे में जागरूक करने के लिए अपने काउंटर स्थापित किए हैं कि कैसे वे आयुष प्रणाली के तहत उपलब्ध पौष्टिक खाद्य पदार्थों और अच्छी आहार शैली के माध्यम से अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रख सकते हैं।

आगंतुकों को गिलोय समेत कई औषधीय पौधे दिए गए, जो कई स्वास्थ्य लाभ वाली जड़ी-बूटी है। आगंतुकों को सिखाया गया कि कैसे वे वाई-ब्रेक मोबाइल एप्लिकेशन में उल्लिखित योग का अभ्यास करके केवल पांच मिनट में अपने कार्यस्थल पर खुद को तरोताजा और ऊर्जावान कर सकते हैं।

आयुष मंत्रालय के स्टाल पर सीधे पकाने योग्य पौष्टिक-औषधीय गुणों वाली सामग्री का एक नया सेट भी प्रदर्शित किया गया है जो मधुमेह, मोटापे, पुराने दर्द और एनीमिया के रोगियों को आवश्यक आहार सहायता प्रदान करता है। पाउडर के रूप में पैक, इन खाद्य सामग्री को संस्थान के एक प्रस्तावित खाद्य स्टार्ट-अप, महाभाष्य के तहत अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान (एआईआईए) के शोध विद्वानों द्वारा विकसित किया गया है। इन व्यंजनों में एक कैंडी, एक क्षुधावर्धक, आटा और एक लड्डू शामिल हैं। इन पैकेटों पर उनको बनाने की विधि और उनके स्वास्थ्य लाभों के बारे में बताया गया है।

आगंतुकों को यूनानी धारा के काउंटर पर मुरब्बा-ए आंवला, हरीरा, यूनानी कहवा और हलवा घीकर चखने के लिए मिला। सिद्ध काउंटर पर भृंगराज चॉकलेट के अलावा भुने हुए चने और काले तिल के लड्डू और पौष्टिक कुकीज भी दिए गए।
यह भी पढ़े► राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान में मनाया गया राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस 2021

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters