Looking for
  • Home
  • Blogs
  • Ayurveda Streetसफेद दाग यानी ल्यूकोडर्मा की हर्बल दवा बनाने वाले डॉ. हेमन्त कुमार सम्मानित

सफेद दाग यानी ल्यूकोडर्मा की हर्बल दवा बनाने वाले डॉ. हेमन्त कुमार सम्मानित

User

By NS Desk | 29-Dec-2020

Dr Hemant Kumar honored

यदि सफ़ेद दाग या ल्यूकोडर्मा से आप पीड़ित हैं तो अब घबड़ाने की कोई बात नहीं क्योंकि इसकी हर्बल दवा बन चुकी है और तकरीबन डेढ़ लाख से अधिक लोगों का इसके जरिये उपचार भी हो चुका है. इस हर्बल दवा को वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. हेमन्त कुमार ने बनाया है जिसके लिए उन्हें ईयर आफ द साइंटिस्ट अवार्ड से सम्मानित किया गया. रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) की तरफ से उन्हें यह सम्मान डीआरडीओ भवन में हुए कार्यक्रम में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की तरफ से दिया गया. उन्हें पुरस्कार स्वरूप दो लाख रुपये की राशि और प्रशस्ति पत्र भी दिया गया. 
 
 
सफेद दाग यानी ल्यूकोडर्मा की इस दवा का नाम ल्यूकोस्किन है जिसे एक बड़ी खोज माना जा रहा है. ल्यूकोस्किन को हिमालय क्षेत्र में दस हजार फुट की ऊंचाई पर पाए जाने वाले औषधीय पौधे विषनाग से तैयार किया गया है. यह खाने और लगाने दोंनों स्वरूप में उपलब्ध है. इस दवा का उत्पादन अब एमिल फार्मास्युटिकल करती है और एक प्रभावी दवा के रूप में इसकी अच्छी पहचान बन चुकी है. 
 
डॉ. हेमन्त कुमार वर्तमान में डीआरडीओ की प्रयोगशाला रक्षा जैव ऊर्जा अनुसंधान संस्थान (डीआईबीईआर) में वरिष्ठ वैज्ञानिक के पद पर कार्यरत हैं. उन्होंने पूर्व में भी 6 दवाओं और हर्बल उत्पादों की खोज की थी.
 

सफ़ेद दाग की दवा खरीदने के लिए लिंक - 

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters