Looking for
  • Home
  • Blogs
  • Ayurvedic Medicinesडाबर सितोपलादि चूर्ण के फायदे और नुकसान : Advantages and Disadvantages of Dabur Sitopaladi Churna in Hindi

डाबर सितोपलादि चूर्ण के फायदे और नुकसान : Advantages and Disadvantages of Dabur Sitopaladi Churna in Hindi

User

By NS Desk | 17-Jul-2021

Dabur Sitopaladi Churna Benefits

सर्दी और खांसी के लिए आयुर्वेदिक दवा: डाबर सितोपलादि चूर्ण

डाबर सितोपलादि चूर्ण सर्दी-खांसी की आयुर्वेदिक औषधि है. यह पिप्पली जैसे औषधीय पौधों से बनाया जाता है, जो आयुर्वेद के शास्त्रों के हिसाब से प्रकृति में उपलब्ध सर्वोत्तम एक्सपेक्टोरेंट (expectorants) में से एक है. डाबर सितोपलादि चूर्ण 100% प्राकृतिक अवयवों से बना है जो खांसी और सर्दी के खिलाफ काम करते हैं और आपको उसकी तकलीफ से छुटकारा दिलाता है.इसके एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों के कारण यह मधुमेह, एनीमिया और माइग्रेन के इलाज में भी मदद करता है। यह सभी आयु समूहों के लिए उपयुक्त एक सुरक्षित और खांसी रोकने वाली प्राकृतिक औषधि है.

डाबर सितोपलादि चूर्ण के फायदे - Dabur Sitopaladi Churna Benefits in Hindi

  • खांसी,सर्दी  और जुकाम में फायदेमंद. 
  • पिप्पली में औषधीय गुणों से भरपूर और खांसी की समस्या से छुटकारा मिलता है.
  • पिप्पली शरीर में आसानी से अवशोषित हो जाती है और शरीर को पोषण और ऊर्जा प्रदान करती है.
  • हाथ - पैरों में जलन और भूख न लगने की समस्या से भी राहत दिलाता है.

डाबर सितोपलादि चूर्ण की खुराक - Dabur Sitopaladi Churna Dosage in Hindi 

आधा से 1 चम्मच (3-6 ग्राम) दिन में दो बार शहद के साथ या आयुर्वेद चिकित्सक के निर्देशानुसार सेवन करें।

यह भी पढ़े ► डाबर शिलाजीत गोल्ड के फायदे

डाबर सितोपलादि चूर्ण का संग्रहण और सुरक्षा जानकारी - Dabur Sitopaladi Churna Storage and Safety Information in Hindi 

  • निर्धारित  खुराक से अधिक न ले 
  • उपयोग करने से पहले लेबल को ध्यान से पढ़ें।
  • इसे बच्चों की पहुंच से दूर रखें।
  • शीतल एवं सूखी जगह पर भंडारित करें।

डाबर सितोपलादि चूर्ण के घटक तत्व - Dabur Sitopaladi Churna Ingredients in Hindi 

  • डाबर सितोपलादि चूर्ण में मिश्री, वंशलोचन, पिप्पली, इला और त्वक प्रमुख सामग्री के रूप में शामिल हैं। 

डाबर सितोपलादि चूर्ण की ऑनलाइन खरीद  - Dabur Sitopaladi Churna Buy Online 

डाबर सितोपलादि चूर्ण की उपलब्धता - Dabur Sitopaladi Churna Availability in Hindi

  • डाबर सितोपलादि चूर्ण / पाउडर 30 ग्राम, 60 ग्राम, 100 ग्राम और 500 ग्राम के पैकेट में उपलब्ध है. 

डाबर सितोपलादि चूर्ण से संबंधित प्रश्न - Dabur Sitopaladi Churna FAQs in Hindi 

क्या सितोपलादि चूर्ण की आदत पड़ जाती है?

►नहीं, ऐसा बिलकुल नहीं होता. लेकिन चिकित्सकीय देखरेख में लेना श्रेयस्कर होगा. 

क्या सितोपलादि चूर्ण खाने के बाद नींद आती है?

►नहीं. निर्धारित मात्रा में खुराक लेने से ऐसी कोई समस्या नहीं आती. लेकिन यदि आपको ऐसा लग रहा है तो चिकित्सक से संपर्क करे. 

क्या सितोपलादि चूर्ण खांसी से राहत दिलाने में मदद करता है?

►हाँ. सितोपलादि चूर्ण को 2-4 ग्राम की मात्रा में दिन में दो बार लेने से खांसी से छुटकारा मिलता है.

यह भी पढ़े ► सितोपलादि चूर्ण के फायदे और नुकसान

consult with ayurveda doctor.
डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।
Subscribe to our Newsletters