• Home
  • Blogs
  • Ayurveda Streetअखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान में बच्चों के लिए टीकाकरण केंद्र का उद्घाटन

अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान में बच्चों के लिए टीकाकरण केंद्र का उद्घाटन

User

By NS Desk | 25-Jul-2022

अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान में बच्चों के लिए टीकाकरण केंद्र का उद्घाटन

केंद्रीय आयुष मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान (एआईआईए) में बच्चों के लिए टीकाकरण केंद्र का उद्घाटन किया। उन्होंने बाल रक्षा मोबाइल ऐप भी लॉन्च किया, जिसका उद्देश्य माता-पिता के बीच आयुर्वेद के माध्यम से बाल रोग निवारक स्वास्थ्य देखभाल के प्रति जागरूकता पैदा करना है। ऐप माता-पिता से उनके बच्चों के स्वास्थ्य और प्रतिरक्षा पर किट के प्रभाव के बारे में प्रतिक्रिया भी एकत्र करेगा।   

सोनोवाल ने 2020 में कोविड के कारण अपनी जान गंवाने वाले एआईआईए के शल्य तंत्र विभाग में एच.ओ.डी के रूप में कार्य करने वाले स्वर्गीय डॉ संजय गुप्ता को श्रद्धांजलि अर्पित की। माननीय मंत्री ने संस्थान में छात्रों को भी संबोधित किया और उन्हें इस बारे में अपनी सोच साझा करने के लिए प्रेरित किया कि कैसे आयुर्वेद को दुनिया भर में स्वीकृति मिल चुकी है और आयुर्वेद अध्ययन करने वाले छात्रों के लिए इसका क्या अर्थ है।

एआईआईए की निदेशक, डॉ. तनुजा मनोज नेसारी ने संकाय के सदस्यों के साथ सोनोवाल के आगमन पर उनका स्वागत किया। इस मौके पर यूपी के मलिहाबाद से विधायक श्रीमती जय देवी कौशल भी मौजूद थीं। वह अपने साथ संस्थान में वृक्षारोपण अभियान के लिए कुछ पौधे लेकर आईं थी। श्रीमती कौशल, डॉ नेसारी के साथ श्री सोनोवाल ने पौध लगाए और संस्थान का भ्रमण किया।

आयुष मंत्रालय के तहत एक स्वायत्त संगठन अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान का उद्देश्य आयुर्वेद के पारंपरिक ज्ञान और आधुनिक उपकरणों और प्रौद्योगिकी के बीच तालमेल बनाना है। संस्थान में 12 विशिष्ट विभाग, 30 ओपीडी इकाइयां हैं जिनमें एक से अधिक विषयों से संबंधित अत्याधुनिक अनुसंधान प्रयोगशालाएं और आयुर्वेद में वैश्विक प्रचार और अनुसंधान के लिए एक अंतरराष्ट्रीय सहयोग केंद्र है।

आयुर्वेद चिकित्सा और स्वास्थ्य विज्ञान की सबसे पुरानी प्रणाली है जो 3,000 से अधिक वर्ष से जारी है। कोविड के दौरान, एआईआईए ने कोविड हेल्थकेयर सेंटर में मरीजों का इलाज 'करुणा के साथ देखभाल' के अपने मिशन के साथ करके एक प्रमुख भूमिका निभाई।
यह भी पढ़े► तनुजा नेसारी को ब्रिटेन की संसद ने आयुर्वेद रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया

डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।