Home Blogs NirogStreet News एड़ी की हड्डी बढ़ना / वातकण्टक के कारण, लक्षण और उपाय

एड़ी की हड्डी बढ़ना / वातकण्टक के कारण, लक्षण और उपाय

By NS Desk | NirogStreet News | Posted on :   15-Sep-2020

वातकण्टक (Calcaneal Spur) -

सुबह-सुबह उठने पर जैसे पैर जमीन पर रखते है , उस समय एड़ी में जोरदार चुभन जैसी पीड़ा होती है। आम भाषा में इसे हड्डी बढ़ना कहते है। असल में एडी में मौजूद calcaneal tuberosity की वृद्धि होने से चुभन जैसी वेदना होती है। इसे आयुर्वेद में बातकण्टक कहते है।

लक्षण (कैसे पहचाने) -

चलते समय एडी की जगह जोरदार सुई चुभने जैसा दर्द होता है। पैर जमीन पर रख भी नही पाते। सामान्यतः यह दर्द नहीं होता ,लेकिन जैसे ही पैर जमीन पर रखते हैं , उसी समय बहुत दर्द होता है।

कारण -

ज्यादातर महिलाओं में होता है। गलत ऊंची heel की सैंडिल पहनने से। ज्यादा वजनी व्यक्तियों में जल्दी होता है।

डॉक्टर को दिखाने का समय -

सुबह बिस्तर से उठने पर पैर जमीन पर रखने में बहुत कष्ट होता है तो तुरंत डॉक्टर को दिखाए।

कौन-कौन सी जांच करवाना जरुरी -

X-ray- X-ray Calcaneal जरुरी है ,इससे यह पता लगेगा कि उस स्थान पर कोई विकृति तो नही हुई है। रक्त जांच- रक्त कमी, Uric Acid या अन्य कोई इंफेक्शन का पता लगाने के लिए। Bone Mass Density-अस्थियों की गुणवत्ता जांचने के लिए

दर्द न हो इसके लिए क्या करे -

चप्पल, जूते और सैंडल का चयन ठीक से करे।

घरेलू इलाज -

यह दर्द घरेलू इलाज से नहीं जाता है। इसके लिए डॉंक्टर का परामर्श 3वश्य ले । परन्तु फिर भी धर में गर्मतैल से दर्द की जगह पर चटका दे तो कुछ आराम होता हैं।

क्या करें -

Heel cushion pad का उपयोग करे। मुलायम सोल वाले जूते चप्पल का प्रयोग करे। Calf stretching exercise

NS Desk

Are you an Ayurveda doctor? Download our App from Google PlayStore now!

Download NirogStreet App for Ayurveda Doctors. Discuss cases with other doctors, share insights and experiences, read research papers and case studies. Get Free Consultation 9625991603 | 9625991607 | 8595299366

Read the Next

view all