Home Blogs Ayurvedic Medicines मधुनाशिनी वटी के फायदे और नुकसान : Madhunashini Vati benefits and side effects in hindi

मधुनाशिनी वटी के फायदे और नुकसान : Madhunashini Vati benefits and side effects in hindi

By NS Desk | Ayurvedic Medicines | Posted on :   27-May-2022

मधुनाशिनी वटी मधुमेह के कारण शरीर पर पड़ने वाले दुष्प्रभावों को कम करता है। साथ ही यह शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को भी मजबूत करता है।

मधुनाशिनी वटी की जानकारी - Madhunashini Vati Information in Hindi 

मधुनाशिनी वटी अपने नाम के अनुरूप ही मधुमेह के उपचार में काम आने एक प्रभावी आयुर्वेदिक दवा है। यह शरीर के सम्पूर्ण स्वास्थ्य को ठीक रखने में मदद करने के साथ-साथ शरीर को ऊर्जावान बनाने में मदद करता है। यह रक्त शर्करा को नियंत्रित कर मधुमेह के प्रबंधन में सहायता करती है। कुल मिलाकर यह हाइपरग्लेसेमिया या मधुमेह के उपचार और प्रबंधन की एक बेहद प्रभावी आयुर्वेदिक दवा है। इसका बड़ा फायदा ये है कि यह मधुमेह के कारण शरीर पर पड़ने वाले दुष्प्रभावों को कम करता है। साथ ही यह शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को भी मजबूत करता है। 

मधुनाशिनी वटी के घटक तत्व - Madhunashini Vati Ingredients in Hindi 

  • गिलोय
  • करेले
  • बेल पत्रा
  • गुडमारे
  • हरड़ छोटी
  • गोखरु
  • वट जटा
  • हल्दी
  • मेथी
  • कुदाछली
  • नीम पत्र
  • अश्वगंधा
  • बहेड़ा
  • कालमेघ:
  • कचुरी
  • नीम
  • अमला
  • शिलाजीत शुद्धो
  • जामुन
  • काली जीरिक
  • चिरायता
  • कुटकिक
  • बबुली
  • कुछला शुद्धि
  • आतिश
  • प्रवल पिष्टी
  • वांग भस्म
  • लौह भस्म
  • मधुनाशिनी वटी के फायदे - Madhunashini Vati Benefits in Hindi 

  • मधुमेह के नियंत्रण और प्रबंधन में सहायक। 
  • रक्त शर्करा के स्तर को संतुलित और बनाए रखने में मदद करता है। 
  • मधुमेह को नियंत्रित करने के साथ-साथ मधुमेह से लंबे समय में होने वाली जटिलताओं को नियंत्रित करता है। 
  • सम्पूर्ण शरीर के स्वास्थ्य को ऊर्जा प्रदान करती है। 
  • अग्न्याशय में इंसुलिन के स्राव को बढ़ाता है। 

मधुनाशिनी वटी के दुष्प्रभाव - Madhunashini Vati side effects in Hindi 

चिकित्सा साहित्य में मधुनाशिनी वटी के कोई दुष्प्रभाव नहीं बताए गए हैं। हालांकि, मधुनाशिनी वटी का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

मधुनाशिनी वटी की खुराक - Madhunashini Vati Dosages in Hindi 

मधुनाशिनी वटी की 1-2 गोलियां दिन में दो बार पानी के साथ, खाली पेट लें या सही खुराक के लिए अपने आयुर्वेद चिकित्सक से परामर्श करें।

मधुनाशिनी वटी का संग्रहण - Madhunashini Vati storage information in hindi 

  • उपयोग करने से पहले लेबल को ध्यान से पढ़ें
  • सीधी धूप से बचाएं
  • चिकित्सकीय देखरेख में उपयोग करें
  • शीतल एवं सूखी जगह पर भंडारित करें
  • मधुनाशिनी वटी की शेल्फ लाइफ निर्माण की तारीख से 36 महीने पहले सबसे अच्छी होती है।

मधुनाशिनी वटी को ऑनलाइन खरीदें -  Madhunashini Vati buy online 

मधुनाशिनी वटी को आप किसी भी ऑनलाइन मेडिसिन स्टोर या आयुर्वेदिक शॉप से खरीद सकते हैं। 

मधुनाशिनी वटी से संबंधित प्रश्न - Madhunashini Vati FAQ's in Hindi 

मधुनाशिनी वटी क्या है?
यह एक शुद्ध आयुर्वेदिक फार्मूला है जो मधुमेह के रोगियों को रक्त में रक्त शर्करा के स्तर पर प्राकृतिक रूप से नियंत्रण बनाए रखने में मदद करता है।

मधुनाशिनी वटी कैसे काम करता है? 
मधुनाशिनी वटी अपने तिक्त (कड़वे) और कषाय (कसैले) गुणों और कफ-पित्त संतुलन के कारण चयापचय में सुधार करके उच्च शर्करा के स्तर के प्रबंधन में मदद करता है। 

मधुनाशिनी वटी की शेल्फ लाइफ कितनी है?
मधुनाशिनी वटी की शेल्फ लाइफ निर्माण की तारीख से 36 महीने तक है।

मधुनाशिनी वटी की क्या खुराक होनी चाहिए? 
मधुनाशिनी वटी की 1-2 गोलियां दिन में दो बार पानी के साथ लिया जा सकता है। लेकिन आयुर्वेद चिकित्सक की सलाह से ही लेना श्रेयस्कर होगा। 

क्या मधुनाशिनी वटी सुरक्षित है?
आयुर्वेद चिकित्सक की सलाह से इसे लिया जाए तो यह पूरी तरह से सुरक्षित है। 

मधुनाशिनी वटी किस लिए प्रयोग की जाती है?
मधुनाशिनी वटी मधुमेह के इलाज और प्रबंधन में मदद करती है। 

क्या मधुनाशिनी वटी का उपयोग पेट के लिए ठीक है?
मधुनाशिनी वटी पेट के लिए सुरक्षित है।

क्या मैं मधुनाशिनी वटी को शराब के साथ ले सकता हूं?
मधुनाशिनी वटी का शराब के साथ क्या प्रभाव होगा, इस बारे में कोई शोध नहीं किया गया है।

क्या मधुनाशिनी वटी का उपयोग स्तनपान करने वाली महिलाओं के लिए ठीक है?
इस बारे में अबतक कोई शोध नहीं किया गया है।

क्या मधुनाशिनी वटी का उपयोग गर्भवती महिला के लिए ठीक है?
मधुनाशिनी वटी का गर्भवती महिलाओं पर असर को लेकर अभी तक कोई शोध नहीं हुआ है। इसलिए आयुर्वेद चिकित्सक की सलाह के बिना इसका सेवन नहीं करना चाहिए। 

मधुनाशिनी वटी की लत या आदत बन रही है?
नहीं।

क्या मधुनाशिनी वटी का उपयोग बच्चों के लिए सुरक्षित है?
मधुनाशिनी वटी बच्चों के लिए नहीं है।

मधुनाशिनी वटी की एक बोतल में कितनी गोलियां होती हैं?
मधुनाशिनी वटी की एक बोतल में 120 गोलियां होती हैं।

संदर्भ - References 

https://www.researchgate.net/publication/301330538_Treatment_of_Type_2_Diabetes_with_Ayurveda_A_Case_Report

यह अंग्रेजी में भी पढ़े► Madhunashini Vati: Benefits, Side Effects, Ingredients and Dosage

NS Desk

Are you an Ayurveda doctor? Download our App from Google PlayStore now!

Download NirogStreet App for Ayurveda Doctors. Discuss cases with other doctors, share insights and experiences, read research papers and case studies. Get Free Consultation 9625991603 | 9625991607 | 8595299366

डिस्क्लेमर - लेख का उद्देश्य आपतक सिर्फ सूचना पहुँचाना है. किसी भी औषधि,थेरेपी,जड़ी-बूटी या फल का चिकित्सकीय उपयोग कृपया योग्य आयुर्वेद चिकित्सक के दिशा निर्देश में ही करें।